अब्बाजान’ बोलकर फंस गए योगी आदित्यनाथ! बिहार में परिवाद दायर, 21 सितंबर को सुनवाई

मुजफ्फरपुर : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ बिहार में मुजफ्फरपुर के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी (सीजेएम) की अदालत में सोमवार को परिवाद दाखिल किया गया है। यह परिवाद अहियापुर थाना क्षेत्र के भीखनपुर गांव निवासी समाजसेवी तमन्ना हाशमी ने दायर किया है।

इसमें यूपी के सीएम के अब्बा जान संबोधन पर एक समुदाय विशेष को बदनाम करने का आरोप लगाया गया है। कोर्ट ने परिवाद को सुनवाई पर रख लिया है तथा इसके लिए 21 सितंबर की तारीख मुकर्रर की है।

परिवाद में हाशमी ने कहा है कि न्यूज पोर्टल व समाचार माध्यमों में यूपी के मुख्यमंत्री ने एक समुदाय विशेष को निशाना बनाते हुए उसे अपमानित करने वाला बयान दिया है। उनका बयान आया है कि अब्बा जान कहने वाले पहले गरीबों का राशन डकार जाते थे।

देश में एक समुदाय विशेष के लोग अपने पिता को अब्बा जान कहते हैं। उनका यह बयान देश में सारे अब्बा जान कहने वाले समुदाय को बदनाम करने की साजिश है। वह भी उसी समुदाय से आते हैं। उनके इस बयान से वह स्वयं को अपमानित महसूस कर रहे हैं। 

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close