एयरफोर्स पेपर प्रकरण : हाथ के इशारों से कराई जा रही थी नकल, पानीपत में पकड़े गए गिरोह के चार

पानीपत : एयरफोर्स के लिए आयोजित आनलाइन भर्ती परीक्षा में नकल कराने वाले गिरोह के सरगना सहित सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

भाजपा आइटी सेल के जिला प्रभारी आशीष सिंधू के वी न्यू मार्डर्न सीनियर सेकेंडरी स्कूल से ये गिरफ्तारियां हुई हैं। हालांकि सिंधू का कहना है कि उनके स्कूल में परीक्षा का सेंटर नहीं था।

उन्हें नकल कराने वाले गिरोह के बारे में कोई जानकारी नहीं है। पुलिस के मुताबिक आरोपितों के पास से 25 ब्लूटूथ उपकरण, चार पीले रंग के टेप, 35 सेल, छह मोबाइल फोन बरामद किए। आरोपित रोहतक जिले के गांव आसन के

धर्मबीर, हिसार के गांव गामड़ा के जितेंद्र उर्फ जीतू, दादरी के गांव हड़ौदी के अमित, सोनीपत के बरौदा गांव के रिक्की को रविवार को अदालत में पेश कर छह दिन के रिमांड पर लिया है। रिक्की ने दो महीने से आशीष सिंधू के स्कूल में पांच कमरों में कंप्यूटर लैब बनाने का ठेका ले रखा था।

इसी निर्माणाधीन लैब का इस्तेमाल वह नकल कराने में कर रहा था। गिरोह के सदस्य पेपर पास कराने के तीन लाख और भर्ती कराने के छह लाख रुपये लेते थे। एक साल में एयरफोर्स व रेलवे में 40 युवकों को भर्ती करा चुके थे। उनके कब्जे से 17 परीक्षार्थियों के रोल नंबर मिले हैं।

जितेंद्र उर्फ जीतू को जनवरी में ग्राम सचिव की परीक्षा में नकल कराते हुए हिसार पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इनके पास से पेपर से संबंधित बातचीत की रिकार्डिंग मिली है। आरोपित रिक्की रोहतक में शीला बाईपास पर भारत निर्माण कोचिंग एकेडमी चलाता था।

इसी तरह से अमित की भी दादरी में कोचिंग एकेडमी है। क्राइम इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (सीआइए)-थ्री प्रभारी इंस्पेक्टर अनिल छिल्लर ने बताया कि एयरफोर्स मैन रिक्रूटमेंट टेस्ट फार इन्टेक की भर्ती के लिए आनलाइन परीक्षा चंडीगढ़, अंबाला, दिल्ली, जयपुर व अन्य जगहों पर कंप्यूटर लैब में हो रही थी।

शनिवार को सूचना मिली कि वी न्यू मार्डर्न सीनियर सेकेंडरी स्कूल की निर्माणाधीन लैब से नकल कराकर कुछ लोग परीक्षा पास करा रहे हैं। छापा मारकर स्कूल के कमरा नंबर चार में चार लोगों को रंगेहाथ धर दबोचा। 

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close