सुवेंदु ने केंद्र को लिखी चिट्ठी, कहा- केंद्रीय एजेंसियों से कराएं कोलकाता वैक्सीन फर्जीवाड़े की जांच

कोलकाता : कोलकाता में पिछले दिनों फर्जी टीकाकरण कैंप के खुलासे और मुख्य आरोपित फर्जी भारतीय प्रशासनिक अधिकारी (आइएएस) अधिकारी देबांजन देब की गिरफ्तारी के बाद से भाजपा ममता सरकार को घेरने में लगी हुई है। इस कड़ी में भाजपा ने वैक्सीन फर्जीवाड़े की जांच केंद्रीय एजेंसियों से कराने की मांग की है।

दूसरी ओर, पुलिस ने आरोपित देबांजन के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया है। इस मामले में देबांजन के तीन सहयोगियों को भी गिरफ्तार किया गया है।

तीनों को शनिवार को अलीपुर कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें दो जुलाई तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया। फर्जी कैंप में टीका लगवाने वाली बांग्ला अभिनेत्री व तृणमूल सांसद मिमी चक्रवर्ती की तबीयत शनिवार को अचानक बिगड़ गई।

कई अन्य लोगों की तबीयत खराब होने की भी जानकारी मिली है। मिमी को पेट दर्द और बेचैनी की समस्या है। उनका घर पर ही इलाज चल रहा है। बता दें, 2,000 से अधिक लोगों को इस कैंप में वैक्सीन लगाई गई थी।

बंगाल विधानसभा में विपक्ष के नेता और भाजपा विधायक सुवेंदु अधिकारी ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डा. हर्षवर्धन को चिट्ठी लिखकर मामले की जांच केंद्रीय एजेंसियों से कराए जाने की मांग की है।

जांच को चार सदस्यीय एक्सपर्ट कमेटी गठित: फर्जी टीकाकरण कैंप मामले में राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने चार सदस्यीय एक्सपर्ट कमेटी गठित की है।

वैक्सीन लगवाने वाले लोगों की सेहत पर इस कमेटी निगाह रखेगी। कमेटी को जल्द ही सरकार को रिपोर्ट सौंपने को कहा गया है। 

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close