भारत में अप्रैल में 27,700 शिकायतें मिलीं, 59 हजार से अधिक सामग्री हटाईं गईं: गूगल

नई दिल्ली : गूगल ने अपनी पहली मासिक पारदर्शिता रिपोर्ट जारी कर दी है। इसमें उसने बताया है कि भारतीय यूजर ने इस साल अप्रैल में स्थानीय कानून या व्यक्तिगत अधिकार के उल्लंघन से संबंधी 27,700 से ज्यादा शिकायतें कीं। इसके परिणाम स्वरूप 59,350 सामग्री हटाई गई।

26 मई को नए सूचना प्रौद्योगिकी (आइटी) नियमों के अमल में आने के बाद गूगल मासिक अनुपालन रिपोर्ट जारी करने वाला पहला डिजिटल प्लेटफार्म है। इंटरनेट मीडिया प्लेटफार्म फेसबुक ने 15 मई से 15 जून के बीच मिली शिकायतों और कार्रवाई की अंतरिम रिपोर्ट दो जुलाई को प्रकाशित करने की बात कही है।

नए आइटी नियमों के तहत 50 लाख से ज्यादा यूजर वाले बड़े डिजिटल प्लेटफार्म को हर महीने अनुपालन रिपोर्ट जारी करनी होगी, जिसमें माह के दौरान मिली कुल शिकायतों और उसके आधार पर की गई कई कार्रवाई का ब्योरा देना होगा।

गूगल ने अपनी रिपोर्ट में ऐसे संचार लिंक का ब्योरा भी दिया है, जिसे स्वचालित तकनीक के जरिये या तो हटा दिया गया या उन तक पहुंच प्रतिबंधित कर दी गई है। गूगल प्रवक्ता ने कहा कि दुनियाभर में आने वाले आग्रहों के संबंध में कंपनी की पारदर्शिता का इतिहास काफी पुराना है।

प्रवक्ता ने बुधवार को कहा, ‘सभी आग्रहों की निगरानी की जाती है और वर्ष 2010 से ही उन्हें पारदर्शिता रिपोर्ट में शामिल किया जाता है। यह पहला मौका है जब हम भारत के नए आइटी नियमों के अनुपालन में मासिक पारदर्शिता रिपोर्ट प्रकाशित कर रहे हैं।

हम भारत में अपनी रिपोर्टिंग प्रक्रिया को और बेहतर करते हुए आगे और विस्तृत ब्योरा प्रस्तुत करेंगे।’ रिपोर्ट मेंे कहा गया है कि डाटा प्रक्रिया और सत्यापन में समय लगने के कारण आंकड़े दो महीने बाद आएंगे।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close