लुधियाना में भिड़ंत : कांग्रेस-भाजपा कार्यकर्ता भिड़े, जमकर चले टमाटर-पत्थर, दस कार्यकर्ता घायल, महंगाई पर हुई मारामारी

लुधियाना : इंप्रूवमेंट ट्रस्ट में कम कीमत पर चहेतों को जमीन व प्लाट बेचने के कथित आरोपों को लेकर राजनीति चरम पर है। दो दिन पहले भाजपा ने करोड़ों रुपये के घोटाले के आरोप लगाते हुए इंप्रूवमेंट ट्रस्ट के दफ्तर के मुख्य गेट पर ताला जड़ दिया था तो कांग्रेस ने गेट ही उखाड़ दिया था।

वहीं, शनिवार को युवा कांग्रेस के कार्यकर्ता महंगाई के विरोध के बहाने घंटाघर चौक स्थित जिला भाजपा के दफ्तर को ताला लगाने पहुंच गए। युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भाजपा दफ्तर का घेराव कर प्रधानमंत्री का पुतला फूंकने की कोशिश की तो भाजपा कार्यकर्ताओं ने विरोध किया। इस पर दोनों पार्टियों के कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई।

इस दौरान दोनों ओर से टमाटर, जूते, चप्पल, ईट, पत्थर और शीशे की बोतलें तक फेंकी गई। हालात इतने बिगड़ गए कि कार्यकर्ताओं को खदेड़ने के लिए पुलिस को बल प्रयोग करना पड़ा। झड़प में दोनों ओर के दस कार्यकर्ता घायल हो गए। इसके बाद भी दोनों ओर से कार्यकर्ता आमने-सामने एक-दूसरे के खिलाफ नारेबाजी कर ललकारते रहे।

ढाई घंटे चले इस सियासी ड्रामे के बाद मौके पर पहुंचे पुलिस के उच्च अधिकारियों ने दोनों पार्टियों के कार्यकर्ताओं को शांत कर वापस भेजा। भाजपा का दावा छह वर्कर हुए घायल, जबकि युवा कांग्रेस ने कहा चार वर्कर अस्पताल में भर्ती हैं। गौरतलब है कि युवा कांग्रेस ने शनिवार को जिला भाजपा के दफ्तर का घेराव करने का एलान किया था।

भाजपा वर्करों ने कर रखी थी हमले की तैयारी : यूवा कांग्रेस के जिला प्रधान योगेश हांडा ने कहा कि वह मंहगाई के विरोध में कार्यकर्ताओं के साथ शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन करने गए थे। कार्यकर्ताओं की संख्या देख भाजपाई घबरा गए। उन्होंने दफ्तर की पहली मंजिल पर खड़े होकर पत्थर फेंकना शुरू कर दिए। हमले से युवा कांग्रेस के चार कार्यकर्ता घायल हुए हैं।

चेतन थापर की टांग में फ्रेक्चर है। कशिश मेहता और कमल को भी चोट आई है। पूरे मामले की होगी जांच : एडीसीपी एडीसीपी डा. प्रज्ञा जैन का कहना है कि मामले की पूरी जांच की जाएगी। जो भी आरोपित पाए जाएंगे उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। पुलिस फिलहाल सुबूत इकट्ठा कर रही है।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close