School Reopen: स्कूल खोले जाने को लेकर सरकारों ने मांगी राय, जानें किस राज्य में क्या की जा रही तैयारी?

Bhopal News : भोपाल । स्कूल खोले जाने (School Reopen) को लेकर राज्य की सरकारें अभिभावकों से फीडबैक मांग रही है। उत्तर प्रदेश में कोरोना का प्रकोप पहले से कम है, यहां सरकार ने स्कूलों को खोलने को लेकर अभ‍िभावकों से फीडबैक मांगा है। वहीं हर‍ियाणा, मध्यप्रदेश, जम्मू कश्मीर, गोवा, दिल्ली आदि राज्यों में भी गर्मी की छुट्ट‍ियां फिलहाल 30 जून तक बढ़ाई गई हैं। अभी जुलाई में स्कूल खोलने को लेकर कोई फैसला नहीं लिया गया है।

एक तरफ अगस्त से अक्टूबर के बीच कोरोना की थर्ड वेव का खतरा मंडरा रहा है तो दूसरी ओर 25 मार्च 2020 से बंद चल रहे स्कूलों के कारण बच्चों का एकेडमिक नुकसान। राज्य सरकारें अभी ये तय नहीं कर पा रही हैं कि वो कोरोना के बाद अनलॉक की स्थ‍ित‍ि में जबकि मरीजों की संख्या भी घटी है, स्कूल खोलने को लेकर क्या फैसला लें। इस दिशा में उत्तर प्रदेश में सरकार माध्यमिक विद्यालयों में पठन पाठन शुरू करने पर विचार कर रही है और इसके लिए अभिभावकों से फीडबैक लिए जा रहे हैं।

दिल्ली की बात करें तो यहां भी अन्य राज्यों की तरह ही कोविड 19 महामारी के चलते लगभग डेढ़ साल से स्कूल बंद हैं और ऑफलाइन शिक्षण कार्य तकरीबन ठप है। साल की शुरुआत में फरवरी में कुछ दिन बड़े बच्चों के लिए स्कूलों को खोला (School Reopen) गया था, लेकिन सेकेंड वेव की आहट के साथ ही फिर से बंद कर दिया गया। दिल्ली सरकार ने फिलहाल अपना फैसला ले लिया है। यहां कहा गया है कि जुलाई से ऑनलाइन क्लासेज ही चलेंगी। स्कूलों को नहीं खोला जाएगा।

हरियाणा सरकार ने भी 30 जून तक स्कूलों में गर्मी की छुट्ट‍ियां घोष‍ित कर दी थीं। फिलहाल अभी यह तय नहीं हो सका है कि यहां जुलाई में स्कूल खोले जाएंगे या नहीं। लेकिन जिस तरह कोरोना की तीसरी लहर को लेकर बात हो रही है कि इसमें बच्चे ज्यादा श‍िकार होंगे। उससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि यहां भी शायद पहली जुलाई से स्कूल नहीं खोले जाएंगे।

अगर राजस्थान की बात करें तो यहां सात जून से स्कूलों को खोला गया था, लेकिन सिर्फ 50 प्रतिशत स्टाफ के साथ इन्हें खोला गया। इसी तरह यूपी में भी एक जुलाई से टीचर्स और अन्य शैक्षण‍िक स्टाफ के लिए प्राथमिक स्कूल खुलेंगे, जहां शिक्षकों को कई जिम्मेदारियां जी गई हैं।

पंजाब में 23 जून तक फिलहाल गर्मी की छुट्ट‍ियां जारी हैं। इसके बाद अभी ऑनलाइन क्लासेज शुरू होंगी। पंजाब के शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला ने मई, 2021 में घोषणा की थी कि राज्य के सभी स्कूल- सरकारी, अर्ध-सरकारी और निजी 24 मई से 23 जून तक छात्रों, शिक्षकों और स्टाफ सदस्यों के लिए बंद रहेंगे।

वहीं, देश में कोरोना के मामले कम होने के बाद 11 जून को हिमाचल प्रदेश ने पहली बार मेडिकल, आयुर्वेदिक, डेंटल, नर्सिंग और फार्मेसी कॉलेजों को फिर से खोलने की घोषणा की। कई राज्य कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए स्कूल चरणबद्ध तरीके से फिर से खोलने और छात्रों को स्वैच्छिक आधार पर उपस्थित होने पर विचार कर रहे हैं। लगभग सभी राज्यों में बच्चों को स्कूलों और कॉलेजों में जाने की अनुमति देने के लिए एक लिखित सहमति आवश्यक होने की उम्मीद है।

देश के अन्य राज्यों जैसे असम, जम्मू-कश्मीर, ओड‍िशा, तेलंगाना आदि राज्यों में स्कूल खोलने को लेकर अभी फिलहाल कोई फैसला नहीं किया गया है। ओड‍िशा सरकार ने साफ कह दिया है कि आने वाले दिनों में स्थ‍ित‍ि की समीक्षा के बाद स्कूल खोलने पर विचार किया जाएगा। असम में गर्मी की छुट्ट‍ियां 14 जून से खत्म हो गई थीं, यहां ऑनलाइन पढ़ाई शुरू हो चुकी है। तेलंगाना में भी 20 जून से छुट्ट‍ियां खत्म होने के बाद ऑनलाइन क्लासेज चल रही हैं।

वहीं केरल, आंध्रप्रदेश, मण‍िपुर, गोवा ने भी कोई फैसला नहीं लिया है। कर्नाटक में 15 जुलाई से नये सेशन की शुरुआत हो रही है। यहां लॉकडाउन खत्म होने के बाद टीचर्स को स्कूल आने को कहा गया है। तमिलनाडु सरकार ने भी कहा दिया है कि आने वाले दिनों में कोरोना के हालातों को देखते हुए फैसला लिया जाएगा।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close