हरियाणा में फिर हुई हैवानियत, 8 साल की मासूम बनी हवस का शिकार, हालत गंभीर

यमुनानगर : हरियाणा में यमुनानगर जिले के जगाधरी में आठ वर्षीय बच्ची के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है। बच्ची यहां जगाधरी रोड पर ईंट भट्ठे पर अपने परिवार के साथ रहती थी।

आरोप भट्ठे पर ही कार्य करने वाले 23 वर्षीय धर्मवीर पर लगा है। वह मूलरूप से उत्तर प्रदेश के जिला औरेया के गांव बरेहवा का रहने वाला है।

अभी पुलिस ने आरोपित पर केस दर्ज किया है। वहीं बच्ची की हालत गंभीर है। उसे पहले सरकारी अस्पताल में दाखिल कराया गया, जहां से हालत गंभीर होने पर रेफर किया गया है।

पुलिस को दी शिकायत के मुताबिक, उत्तर प्रदेश के सहारनपुर के मिर्जापुर थाना क्षेत्र का परिवार करीब एक साल से यहां जगाधरी रोड पर ईंट भट्ठे पर मजदूरी करता है। परिवार में आठ वर्षीय बच्ची भी है।

बच्ची को उसकी मां ने रात करीब आठ बजे पास में ही एक दुकान से बल्ब का होल्डर लाने के लिए भेजा। कुछ देर बाद बच्ची रोते हुए आई।

पूछने पर उसने बताया कि धर्मवीर ने उसके साथ गलत काम किया है। उसे पकड़कर मुंह दबा लिया और भट्ठे के पीछे लेकर गया था। बच्ची के कपड़े भी खून से सने हुए थे।

वह रोते-रोते बेहोश हो गई। खून रोकने के लिए उसे कपड़ों से लपेट दिया। इसके बाद बच्ची की हालत बिगड़ने लगी। जिस पर ठेकेदार को फोन कर बुलाया।

वहां से एंबुलेंस व पुलिस को फोन किया गया। इसके बाद बच्ची को अस्पताल में दाखिल कराया गया। यहां पर भी हालत में सुधार नहीं होने पर पीजीआइ, चंडीगढ़ रेफर किया गया है।

आरोपित धर्मवीर भी भट्ठे पर ही कार्य करता है। जगाधरी शहर थाना प्रभारी सुरेश कुमार ने बताया कि मामले में केस दर्ज कर लिया गया है। आरोपित की तलाश की जा रही है। 

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close