मैसूर गैंगरेप पीड़िता ने की आरोपियों की पहचान, सातवें अपराधी की तलाश में पुलिस

मैसुरु : कर्नाटक के मैसूरु में सामूहिक दुष्कर्म की शिकार ने अपराध करने वालों की तस्वीरों की पहचान कर ली है। वहीं 20 सदस्यीय एक विशेष टीम तमिलनाडु के तिरुपुर में अपराध में शामिल सातवें आरोपित की तलाश में जुटी है। चामुंडी फुटहिल्स में 24 अगस्त को यह अपराध हुआ था।

पीड़िता को आरोपितों की तस्वीरें भेजी गई थी और उसने उन सभी को पहचान लिया है। पुलिस सूत्रों ने कहा कि पीड़िता की हालत अभी भी गंभीर है और एक अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है। पुलिस उसके स्वस्थ होने और बात करने की स्थिति में आने पर बयान दर्ज करने की योजना बना रही है।

सूत्रों ने कहा कि सरकार और पुलिस उसकी स्थिति से अवगत है और बयान दर्ज करने की जल्दी में नहीं है। विपक्ष के नेता सिद्धारमैया ने सरकार की आलोचना की थी और पीड़िता का बयान दर्ज करने के लिए दबाव डाला था।

उन्होंने कहा था कि कानून में पीड़िता का बयान दर्ज किए जाने का प्रविधान है। तिरुपुर गई विशेष टीम बाधाओं का सामना कर रही है, क्योंकि स्विच आफ होने से आरोपित के फोन का पता नहीं चल पा रहा है। पुलिस जानती थी कि आरोपित अपने रिश्तेदारों के संपर्क में है, लेकिन वह पुलिस को चकमा देने में कामयाब हो गया।

तिरुपुर में टीम ने आरोपित के सभी दोस्तों और रिश्तेदारों का पता लगा लिया है। पुलिस अपराध स्थल की जांच कर रही है और आरोपियों के साथ घटनाओं का क्रम तैयार कर रही है। कोर्ट की सहमति से पुलिस तीन आरोपितों को अपने साथ ले गई है। तमिलनाडु पुलिस थानों से भी आरोपितों की आपराधिक पृष्ठभूमि का पता लगाया जा रहा है। 

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close