MP उपचुनाव में कांग्रेस को झटका : पूर्व विधायक सुलोचना रावत और बेटे विशाल ने आधी रात को कांग्रेस छोड़ी; दोनों में से किसी को जोबट से टिकट दे सकती है BJP

भोपाल : मध्य प्रदेश की आलीराजपुर विधानसभा सीट पर उपचुनाव से ठीक पहले कांग्रेस को बड़ा झटका देते हुए पूर्व विधायक व दिग्विजय सिंह के शासन काल में राज्यमंत्री रहीं सुलोचना रावत ने अपने बेटे विशाल रावत के साथ भाजपा का दामन थाम लिया है।

शनिवार देर रात उन्होंने भोपाल स्थित मुख्यमंत्री आवास में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा की मौजूदगी में भाजपा की सदस्यता ली।

आदिवासी बहुल आलीराजपुर जिले की जोबट विधानसभा सीट पर उपचुनाव होना है। यह सीट कलावती भूरिया के निधन के कारण रिक्त हुई थी। यहां से कांग्रेस के कद्दावर नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री कांतिलाल भूरिया के पुत्र विक्रांत भूरिया भी दावेदार हैं, लेकिन सूत्रों का कहना है कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ सुलोचना रावत को टिकट देना चाहते थे।

कांग्रेस अपना प्रत्याशी घोषित करती, इससे पहले ही सुलोचना और उनके बेटे विशाल रावत ने कांग्रेस से किनारा कर लिया। दोनों को भाजपा में शामिल कराने में केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक राज्यवर्धन सिंह दत्तीगांव ने मध्यस्थता निभाई।

भाजपा में शामिल होने के बाद विशाल रावत ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के विकास कार्यों से प्रभावित होकर मैं भाजपा में शामिल हुआ। अब हम अपने क्षेत्र में विकास कार्य करा सकेंगे। वहीं सुलोचना रावत ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विकास योजनाओं के माध्यम से आदिवासी वर्ग का विकास किया है।

इसी से प्रभावित होकर हम भाजपा में शामिल हुए हैं। माना जा रहा है कि भाजपा सुलोचना या विशाल में से किसी को उपचुनाव में टिकट दे सकती है। इधर इस घटनाक्रम पर प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री (मीडिया) केके मिश्रा ने कहा कि कांग्रेस एक समुद्र है। सिद्घांतों के साथ समझौता करने वालों के जाने से कोई फर्क नहीं पड़ेगा। 

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close