मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में नकली नोट खपाने वाला बड़ा गिरोह पकड़ा, लाखों के नकली नोट बरामद, एक गिरफ्तार

Bhopal News : भोपाल । मध्य प्रदेश में राजगढ़ जिले की पुलिस ने नकली नोट छापने और बाजार में उन्हें खपाने वाले एक बड़े गिरोह का पर्दाफाश किया है। गिरोह के तार छत्तीसगढ़ से जुड़े हैं। राजगढ़ जिले की पुलिस ने जीरापुर और आगर से पकड़े गए नकली नोट खपाने वाले आरोपितों की निशानदेही पर छत्तीसगढ़ के भिलाई शहर से विजय सिंह नामक युवक को 54 लाख रुपये के नकली नोट और उन्हें छापने के उपकरणों के साथ गिरफ्तार किया है।

यह युवक एक करोड़ रुपये के नकली नोट छापने की तैयारी था। राजगढ़ पुलिस ने 26 जून को जिले के जीरापुर स्थित इंदर चौराहे से शंकर व रामचंद्र नामक दो युवकों को एक लाख रुपये के नकली नोट के साथ गिरफ्तार किया था। बाद में आरोपितों की निशानदेही पर जिले के ही आगर से कमल यादव नामक युवक को हिरासत में लिया गया।

कमल नकली नोट उपलब्ध करवाता था। कमल ने पुलिस को बताया कि उसे यह नोट छत्तीसगढ़ के भिलाई में रहने वाला विजय सिंह देता है। कमल की निशानदेही पर पुलिस ने भिलाई के छावनी थाना अंतर्गत सरकारी कॉलोनी स्थित एक कमरे पर दबिश देकर विजय को गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से पुलिस ने 54 लाख 37 हजार 200 के नकली नोट जब्त किए हैं।

Photo of the Remarkables mountain range in Queenstown, New Zealand.

इसके अलावा पांच प्रिंटर, दो पेपर कटर, एक लैपटॉप, एक मॉनीटर, एक सीपीयू, एक लेमिनेटर, नकली नोट बनाने की फ्रेम, वॉटरमार्क की फ्रेम, विशेष स्याही के कॉर्टेज आदि जब्त किए हैं। नकली नोट बनाने का प्रशिक्षण भी देता था पुलिस अधीक्षक प्रदीप शर्मा ने बताया कि विजय ने नकली नोट तैयार करने के कई वीडियो इंटरनेट मीडिया पर अपलोड कर रखे थे।

इन वीडियो के जरिये ही उसने इस अवैध कारोबार से जुड़ने वाले लोगों का नेटवर्क बनाया था। विजय लोगों को नकली नोट छापने का प्रशिक्षण भी देता था। इसके लिए वह अच्छी-खासी फीस भी लेता था।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close