कोरोना योद्धाओं ने जान की परवाह किए बिना अपना फर्ज अदा किया, सम्मान समारोह में बोले गृहमंत्री

Datia News : दतिया। कोरोना महामारी के दौरान जब कोरोना संक्रमित व्यक्ति से मिलने या उसके पास जाने में स्वजन संकोच करते थे ऐसे समय में कोरोना योद्धाओं ने अपनी जान की परवाह किए बिना अपना फर्ज अदा किया। यह बात गृहमंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा ने शनिवार को अपने निज निवास राजघाट कालोनी पर कोरोना से मृत व्यक्तियों के दाह संस्कार करने वाले कोरोना योद्वाओं के सम्मान समारोह को संबोधित करते हुई कही। डा. मिश्रा ने इस अवसर पर कोरोना योद्वाओं को पुष्पहार एवं शील्ड प्रदान कर सम्मानित किया।

गृहमंत्री ने कहाकि कोरोना महामारी के संक्रमण को पूरी दुनिया देख चुकी है। जिसमें संक्रमित व्यक्ति के पास जाने में लोग संकोच करते थे, कतराते थे। ऐसे में उक्त लोगों ने कोरोना योद्धा के रूप में भीषण गर्मी में पीपीटी किट पहनकर कोविड पोटोकाल का पालन करते हुए अपनी जान की परवाह किए बगैर कोरोना से मृत व्यक्तियों का दाह संस्कार किया।

इस कार्य की जितनी सराहना की जाए उतनी कम है। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में दतिया की पुलिस ने अन्नदान वितरण कार्यक्रम एवं पुलिस कर्मियों द्वारा एक दिन का वेतन देकर पुलिस चिकित्सालय में आयुष वार्ड की स्थापना कर मानवता की मिशाल पेश की।

गृहमंत्री ने कोरोना से मृत व्यक्तियों के दाह संस्कार करने वाले कोरोना योद्धा के रूप में चंदन वाल्मीकी, सत्यम, विक्रम, पवन, रामकुमार, लखन, निखिल और पंकज को पुष्पहार पहनाकर एवं शील्ड प्रदान कर सम्मान किया। कार्यक्रम को पूर्व विधायक प्रदीप अग्रवाल ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम का संचालन आयोजक डा. राजू त्यागी ने किया।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close