सरपंच ने बदल दिया गांव का रास्ता, तो विरोध में उतरे ग्रामीण बगीचा उजाड़कर सीसी रोड डालने की तैयारी

दतिया। भांडेर अनुभाग की ग्राम पंचायत भलका के सरपंच की मनमानी के विरोध में ग्रामीण सड़क पर उतरने की तैयारी कर रहे हैं। ग्रामीणों का आरोप है की सरपंच गांव का बरसों पुराना मुख्य रास्ता बदलने की साजिश रच रहा है। जिसके चलते गांव में डाली जाने वाली सीसी रोड मुख्य रास्ते की बजाय अन्य जगह से निकाली जा रही है। जिस जगह से यह नया रास्ता बनाने की तैयारी की जा रही है वहां हरे भरे पेड़ों का एक बगीचा खड़ा है, जिसे काटकर सरपंच वहां से सीसी रोड निकालना चाहता है। सरपंच की इस मनमानी के पीछे उसकी बगीचा मालिक से चुनावी रंजिश होना बताया जा रहा है। इस मामले में ग्रामीणों ने प्रशासनिक अधिकारियों को आवेदन सौंपे हैं। साथ ही पंचायत के कई पंचों ने भी पंचनामा तैयार कर इस मामले में विरोध जताया है।

सीसी के नाम पर काटे जा रहे हरे भरे वृक्ष

ग्राम पंचायत भलका के सरपंच द्वारा आम रास्ता बदलकर, दूसरी जगह से सीसी डालने के नाम पर गांव के निवासी देवेंद्र शुक्ला के बगीचे में खड़े हरे भरे महुआ, आंवला, पीपल, करौंदे के पेड़ काटे जा रहे हैं। जब इस बात का विरोध किया गया तो गत दिवस स्वयं सरपंच कुल्हाड़ी लेकर पेड़ काटने पहुंच गया। देवेंद्र की पत्नी सुनीता ने जब बगीचे के पेड़ काटने से मना किया तो सरपंच, महिला से अभद्रता करने लगा। साथ ही उसने महिला सुनीता को हरिजन एक्ट में फंसाने की धमकी तक दे डाली।

इस मामले में पंचायत की पंच संगीता जाटव, हरिहर कुशवाह, गगन प्रताप, प्रहलाद जाटव, जनवेद, दीपक सहित अन्य लोगों ने बताया कि चुनावी रंजिश भुनाने के लिए सरपंच मनमानी कर गांव का रास्ता बदलकर दूसरी जगह से सीसी डालना चाहता है। इस मामले में ग्रामीण एसडीएम, तहसीलदार एवं जनपद सीईओ को शिकायत कर चुके हैं। लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई न किए जाने से सरपंच के हौंसले बुलंद है। ग्रामीणों का कहना है कि यदि शीघ्र कार्रवाई नहीं की गई तो वह सड़क पर उतरकर आंदोलन करेंगे।

इस पूरे मामले में जनपद सीईओ भांडेर हेमंत सूत्रकार का कहना है कि : यह मामला नायब तहसीलदार परसेडिया के पास है, वो इस मामले की जांच कर रहे हैं, इसमें जो भी निराकरण होगा उसके बाद ही सीसी का निर्माण कार्य किया जाएगा। अगर सरपंच द्वारा फलदार पेड़ काटे गए हैं तो वो गलत है, मैं इसकी जांच करुंगा। वहीं पंचायत के सरपंच कमल कोरी ने कहाकि जहां पेड़ खड़े हैं वह शासकीय जमीन है, मैं उसमें सीसी का निर्माण करा रहा हूं, पेड़ तो काटने पड़ेंगे फलदार हो या छायादार। इधर पीड़ित सुनीता शुक्ला पत्नी देवेंद्र शुक्ला निवासी भलका ने बताया कि सरपंच गांव का मुख्य रास्ता बदलकर हमारे बगीचे से सीसी निकालना चाहता है। उसका कहना है कि अगर वहां से सीसी नहीं डालने दी तो मैं तुम्हे हरिजन एक्ट में फंसा दूंगा।

तुलसी के पौधे का देवी रूप में किया साज श्रृंगार, आनलाइन प्रतियोगिता में महिलाओं ने किया अनूठा कला प्रदर्शन

जेसीबी चली तो जमीन ने उगली अवैध शराब, कंजर डेरों पर मचा हडंकप, 8 लाख से ज्यादा की शराब जप्त

हाथों में तख्ती थामकर सड़कों पर उतरे कलेक्टर व एसपी, ‘वेक्सीन ही संजीवनी’ का नारा किया बुलंद, लोगों को किया जागरुक

शहर में कानून व्यवस्था बिगाड़ने वालों को बख्शा नहीं जाएगा, पदभार संभालते ही नवागत कोतवाल ने पैदल घूमकर किया शहर भ्रमण

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close