इकलौते बेटे का शव लेने आ रहे परिजनों से लूट, दो कार सवार बदमाशों ने हमला करके 20 हजार छीने

पानीपत : हरिद्वार रोड पर छाजपुर के पास कार की टक्कर से स्कूटी सवार उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर के दक्षिणी कृष्णापुरी निवासी निवासी बसंत (20) की मौत हो गई।

उसका दोस्त मयंक चोटिल हो गया। इकलौते बेटे की मौत की खबर पाकर भतीजों व साले के साथ गाड़ी में आ रहे पिता आदित्य पर कैराना के पास बदमाशों ने हमला कर 20 हजार रुपये छीन लिए। हमला होने पर तीनों के सिर पर गंभीर चोटें आई हैं।

आदित्य शर्मा ने बताया कि गुरुवार शाम को उनका इकलौता बेटा बसंत शर्मा अपने दोस्त मयंक के साथ स्कूटी पर पानीपत में रहने वाली बुआ के घर आने के लिए निकला था। वहां पहुंचने से पहले ही रात 10 बजे के करीब छाजपुर के पास पीछे से तेज गति से आई कार ने उनकी स्कूटी में जोरदार टक्कर मार दी।

हादसे के बाद मयंक साइड में जा गिरा और उसे मामूली चोट आई, जबकि बसंत का सिर सड़क पर लगा। अस्पताल लाते समय उसकी रास्ते में ही मौत हो गई। मयंक ने फोन कर हादसे की खबर उन्हें दी। आदित्य शर्मा ने बताया कि बीए में पढ़ रहे इकलौते बेटे की मौत की सूचना पर वह तुरंत अपने साले जनार्दन शर्मा, भतीजे शिशिर व मुकुल के साथ कार लेकर पानीपत के लिए चल पड़े।

कैराना से करीब पांच किलोमीटर पहले ही पीछे से आए कार चालक ने उनकी कार को साइड से टक्कर मार दी। अनहोनी की आशंका के कारण उन्होंने कार नहीं रोकी। थोड़ी देर बाद गाड़ी के सामने ट्रक आने के कारण कार धीमी हुई तो पीछे लगे दो कार सवार बदमाशों ने तुरंत एक कार उनके आगे और एक साइड में लगा दी। कार से उतरते ही बदमाशों ने आदित्य शर्मा, भतीजा शिशिर व मुकुल पर लोहे की किसी चीज से वार कर लहूलुहान कर दिया।

हाथ जोड़ बेटे की मौत के बारे में बताया तो बदमाशों ने छोड़ा मृतक के मामा जनार्दन ने बताया कि बदमाशों ने आदित्य व उनके दोनों भतीजों पर हमला कर मुकुल की जेब से 20 हजार रुपये निकाल लिए। तभी वह भी गाड़ी से नीचे उतरे और हाथ जोड़कर बदमाशों के सामने बेटे की मौत के बारे में बताया और छोड़ने की मिन्नत की।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close