इस दिवाली आ रहा है जिओ 5G : रिलायंस इंडस्ट्रीज की 45 वीं एजीएम में हुए कई निर्णय, जानिए क्या है अंबानी का फ्यूचर प्लान !
Reliance AGM 2022 Highlights in Hindi ,Reliance AGM 2022 Explained in Hindi, Reliance AGM 2022 5G Decison ,Reliance AGM 2022 Updates in Hindi ,JIO TRUE 5G , Reliance AGM 2022 Plan Details in Hindi ,reliance agm 2022 live,reliance agm 2022,reliance agm,reliance agm 2022 live updates,reliance agm updates,reliance agm 2022 latest,reliance agm report 2022,reliance jio agm,reliance jio ipo,reliance retail,reliance agm report,jio agm 2022,ril agm 2022,reliance agm highlights,reliance share analysis,reliance industries agm,reliance industries,reliance industries share,reliance share news today,ril agm,reliance agm meeting updates,ril agm 2022 updates, ril jio 5g,jio ril 5g,jio true 5g,2022 jio 5g,jio 5g phone,ril agm jio 5g,jio 5g,ril jio 5g news,reliance jio 5g,ambani on jio5g,airtel vs jio 5g,ril agm on jio 5g,reliance on jio 5g,jio 5g sim,jio 5g ril,jio 5g agm,ril agm jio,5g in india,jio 5g news,ambani speech on jio 5g,ambani jio 5g announced,jio 5g plans,jio 5g today,jio airfiber,ril agm live,jio 5g launch,jio 5g offers,jio 5g diwali,jio 5g latest,ril agm on jio,jio 5g updates

नई दिल्ली : इंडस्ट्रीज से लेकर टेलीकॉम तक भारत की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज (आरआईएल) ने सोमवार को अपनी 45 वीं वार्षिक आम बैठक (एजीएम) आयोजित की

जहां इस ग्रुप के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने अपने शेयर धारकों , पाटनर्स , इन्वेस्टर को संबोधित किया और अपनी दूरसंचार शाखा जियो की बहुप्रतीक्षित 5 जी की रोलआउट योजना सहित कई प्लान को साझा किया ।

ऐसे हुई मीटिंग की शुरुवात
ये 45 वीं जनरल मीटिंग सोमवार दोपहर को पूरी होई जहा मुकेश अंबानी ने इस साल का पूरा हिसाब किताब इन्वेस्टर और शेयर होल्डर्स के सामने रखा शुरवात में उन्होंने इन आंकड़ो का ज़िक्र किया –

● रिलायंस भारत का पहला कॉर्पोरेट ग्रुप जिसने $100 बिलियन का राजस्व प्राप्त किया
● इस साल कंसोलिडेटेड Revenue 47 % से बड़ा जो की – 7,93,000 cr. हैं
● EBITDA ने भी पर प्राप्त किया बड़ा लक्ष – 1,25,000 CR.
● एक्सपोर्ट ग्रोथ भी 75 % बड़ी
● इस साल भी रिलायंस भारत का सबसे ज्यादा टैक्सपेयर हैं (जिसमें DIRECT – INDIRECT 38 % से बड़ा )
● रिलायंस ग्रुप ने इस साल दी हैं 2 लाख से ज्यादा लोगो को नौकरी

आप को बता दे कि इस आयोजन पर बारीकी से नज़र रखी जा रही थी। निवेशकों और विश्लेषकों द्वारा, क्योंकि प्रमुख घोषणाएं और रिलायंस के प्लान का सब को इंतिजार था।

Jio True 5g
मुकेश अंबानी ने Jio की बहुप्रतीक्षित 5G सेवाओं के रोलआउट योजना को साझा किया। उन्होंने घोषणा की दौरान कहां की जिओ 5G दिवाली तक दिल्ली, मुंबई, चेन्नई और कोलकाता सहित प्रमुख शहरों में सेवाएं शुरू कर देगा ।

JIO PHONE 3, Jio 5G Phone, 5G Phone, JIO PHONE 3, jio phone 3 booking, Jio phone price, Jio phone 3 price, jio 5g phone price in india, jio phone features, jio 5g phone features

● आपको बता दें कि जिओ के 421 मिलियन मोबाइल ब्रॉडबैंड सब्सक्राइबर है ।
● रिलायंस ग्रुप ने इस नई टेक्निक 5G का नाम जिओ True 5G या स्टैंड अलोन 5G रखा है।
● मुकेश अंबानी ने अपनी बात करते वक्त इस 5 जी को E.E.E मॉडल बताया है
(E.E.E = Everyone, Everywhere, Everything).
● दिसंबर 2023 तक जिओ 5G भारत की हर चौक टाउन तहसील और छोटे इलाकों तक पहुंच जाएगा

जिओ 5G के फायदे
1. इंटरनेट स्पीड बहुत तेजी के साथ बढ़ जाएगी जिसको अगर आंकड़ों में समझा जाए तो 1.09 Gbps होगा
2. वीडियो कंटेंट की क्वालिटी भी अल्ट्रा प्रो के साथ बढ़ जाएगी
3. स्वास्थ और शिक्षा के क्षेत्र में भी 5G लाभकारी नजर आ रहा है
4. रिलायंस ग्रुप ये दावा कर रहा है कि इस टेक्निक में इस्तेमाल होने वाला हर चीज भारत में निर्मित है और 5G पूरी तरह मेड इन इंडिया है ।

JIO PHONE 3, Jio 5G Phone, 5G Phone, JIO PHONE 3, jio phone 3 booking, Jio phone price, Jio phone 3 price, jio 5g phone price in india, jio phone features, jio 5g phone features

आपको बता दे की टेलीकॉम क्षेत्र में अंबानी रिलायंस ग्रुप सबसे पहले अपना 5जी लांच करने वाले हैं जिसके लिए उन्होंने 2 लाख करोड़ से भी ज्यादा का निवेश कर दिया है।

इन चार कंपनियों के साथ रिलायंस ने किया कोलैबोरेशन !
1.META
2.Google
3.Microsoft
4.Intel

एफएमसीजी कारोबार पर ईशा अंबानी
ईशा अंबानी ने कहा कि एफएमसीजी व्यवसाय का उद्देश्य उच्च गुणवत्ता वाले, किफायती उत्पाद विकसित करना और वितरित करना है जो हर भारतीय की दैनिक जरूरतों को हल करता है।

O2C व्यवसाय पर मुकेश अंबानी
मुकेश अंबानी ने कहा कि आरआईएल तेल से रसायन (ओ2सी) कारोबार को एकीकृत करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि कंपनी अगले 5 साल में ऑयल-टू-केमिकल्स ऑपरेशंस में 75,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। उन्होंने कहा कि कार्बन फाइबर तेल-से-रासायनिक संचालन के लिए विकास लीवर होगा।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close