यात्रियों से भरी बस सड़क किनारे पलटी, मवेशियों को बचाने के चक्कर में हुआ हादसा, अंधेरे के कारण घायलों को निकालने में हुई परेशानी

Datia News : दतिया। सवारियों से भरी बस गुरुवार देर शाम ग्राम चौपरा के पास पलट गई। बस चालक द्वारा सड़क से गुजर रही भैंसों को बचाने के प्रयास में अनियंित्रत हुई बस सड़क किनारे जा पलटी। इस हादसे में बस में सवार करीब 35 यात्रियों के घायल होने की खबर है।

जिनमें से अधिकांश को मामूली चोट आने पर प्राथमिक उपचार के बाद जाने दिया गया। घटना की सूचना मिलने पर सिविल लाइन थाना पुलिस ने मौके पर पहुंचकर घायलों को अस्पताल पहुंचवाया।

जानकारी के अनुसार खनियाधाना से दतिया वापिस लौट रही बस एमपी32-पी-0270 गुरुवार देर शाम ग्राम चौपरा के पास अनियंित्रत होकर पलट गई। बस पलटते ही उसमें सवार यात्रियों में चीख पुकार मच गई।

आसपास के लोगों ने शोर सुनकर मौके पर पहुंचकर बस में फंसे यात्रियों को बाहर निकालने में मदद की। इस दौरान बस के शीशे तोड़कर यात्रियों को काफी मशक्कत के बाद बाहर निकाला जा सके। बस में करीब 35 यात्री सवार थे। जिन्हें इस हादसे में चोटें आई।

बस हादसे की सूचना सिविल लाइन थाना पुलिस को दी गई। जिसके बाद पुलिस भी मौके पर पहुंच गई और वहां मौजूद लोगों की मदद से घायलों को बस से निकालकर उपचार के लिए अस्पताल भेजा गया।

भैंसों को बचाने के चक्कर पलटी बस

बस में सवार यात्रियों के मुताबिक शाम के धुंधलके में सड़क से गुजर रही भैंसों को बचाने के चक्कर में ड्राइवर ने बस को सड़क किनारे कच्चे में उतारने का प्रयास किया। इसी दौरान बस असंतुलित होे गई और सड़क किनारे जा पलटी। सब कुछ इतनी जल्दी हुआ कि बस में सवार यात्रियों को कुछ सोचने का मौका भी नहीं मिला।

अंधेरे में यात्रियों को निकालने में हुई परेशानी

ग्राम चौपरा के पास घटित हुए बस हादसे के दौरान काफी अंधेरा होने के कारण आसपास के लोगों व पुलिस को बस में फंसे यात्रियों को बाहर निकालने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। अंधेरे के कारण आसपास कुछ भी नजर नहीं आ रहा था।

वहीं बस के अंदर फंसे लोगों की चीख पुकार के कारण अफरा तफरी मची हुई थी। अन्य वाहनों की लाइट और मोबाइल की रोशनी की मदद लेकर बस से यात्रियों को बाहर निकाला जा सका।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close