राहुल के दौरे के बाद भाजपा कार्यकर्ताओं ने कटड़ा में छिड़का गंगाजल, सियासत शुरू

जम्मू : कांग्रेस नेता राहुल गांधी के दौरे के बाद भाजपा युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने कटड़ा में गंगाजल छिड़ककर शुद्धिकरण अभियान चलाया।

इसके बाद यह मसला भाजपा और कांग्रेस के बीच सियासी घमासान का कारण बन गया है। दोनों दल एक-दूसरे पर सियासत करने का आरोप लगा रहे हैं। यहां बता दें कि कांग्रेस सांसद वैष्णो देवी के दर्शन को गए थे।

अगले दिन जम्मू में श्री माता वैष्णो देवी की पिंडियों को ‘सिंबल’ कहकर विवाद पैदा कर दिया था। भाजपा ने इसे देवियों का अपमान बताया था। इसके बाद रविवार को भारतीय जनता मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने रविवार को कटड़ा में गंगाजल छिड़क शुद्धिकरण अभियान चलाया था।

प्रदेश के पूर्व उपमुख्यमंत्री व भाजपा के वरिष्ठ नेता कविंद्र गुप्ता का कहना है कि राहुल गांधी को हिन्दू धर्म के बारे में कुछ पता नहीं है। वह बार-बार हिन्दू आस्था का अपमान करते हैं। ऐसे में राहुल गांधी के विवादास्पद बयान के बाद युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं से कटड़ा में गंगाजल छिड़क कर सही किया है।

गुप्ता ने कहा कि कांग्रेस लोगों को गुमराह नहीं कर सकती है। कांग्रेस को वोट की खातिर धार्मिक स्थलों को लेकर राजनीति नहीं करनी चाहिए। वहीं, दूसरी ओर कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रविंद्र शर्मा का कहना है कि भाजपा बेवजह विवाद पैदा करने की कोशिशें कर रही है।

इससे कांग्रेस को कोई फर्क नहीं पड़ता है। राहुल गांधी ने पूरी श्रद्धा के साथ माता के दर्शन किए। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के दौरे के बाद भाजपा लकीर पीट रही है।

यह था मामला : राहुल गांधी नौ सितंबर को वैष्णो देवी के दर्शन को गए थे। अगले दिन उन्होंने कांग्रेस कार्यकर्ता सम्मेलन में मां वैष्णो की पिंडियों को सिंबल बता कर विवाद पैदा कर दिया था।

भाजपा ने इसे आस्था पर चोट करार देते हुए राहुल गांधी पर निशाना साधा था। रविवार को भारतीय जनता युवा मोर्चा के राष्ट्रीय महासचिव रोहित चहल के साथ ही मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अरुण देव सिंह जमवाल ने कटड़ा में गंगाजल का छिड़काव कर शुद्धिकरण अभियान चलाया था।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close