अपने बीच की कड़वाहट भूलाकर अक्षु ने महिमा को लगाया गले, हर्ष ने मंजरी की सलाह पर उठाया सवाल

स्टार प्लस के लांगेस्ट रनिंग शो ‘ये रिश्ता क्या कहलाता है’ के फैंस को मेकर्स ने अभि और अक्षु के पुनर्मिलन के साथ बेहद खूबसूरत तोहफा दिया है। शो में लंबे आरसे के बाद अक्षरा और अभिमन्यु फिर से एक होते हुए नजर आने वाले है। अक्षरा की ग्रैंड एंट्री भी दर्शकों के लिए बेहद एंटरटेनिंग साबित हुई है। अब दोनों अपनी जिंदगी की दूसरी पारी की शुरुआत कर रहे हैं।

एपिसोड़ की शुरुआत में अभिमन्यु और अक्षरा रस्मे निभाते हैं। मंजरी कहती है कि अभिमन्यु ने उसके लिए बहुत तैयारी की है। अक्षरा उसके लिए नहीं बल्कि उन दोनों के लिए कहती है। मंजरी अक्षरा और अभिमन्यु का स्वागत करती है। मंजरी ने अक्षरा और अभिमन्यु को आशीर्वाद दिया। बिरला परिवार भी अक्षरा और अभिमन्यु का स्वागत करते हैं और उनकी नई शुरुआत के लिए शुभकामनाएं देते हैं।

अक्षु ने महिमा को लगाया गले
अभिमन्यु कहता है कि उसने अक्षरा के साथ अपने रिश्ते को दूसरा मौका दिया है। उनका कहना है कि दूसरे तय कर सकते हैं कि उन्हें अपने रिश्ते से क्या लेना-देना है। महिमा कहती है कि उसके पास छिपाने की प्रतिभा नहीं है और बस अनीशा की मौत से आगे बढ़ जाती है।

इसके बाद अक्षरा ने महिमा को गले लगाया। वह महिमा को अपने अपराध बोध से बाहर आने के लिए कहती है। मंजरी महिमा को एक नई शुरुआत करने के लिए कहती है।

शेफाली-निष्ठा ने लिए ये फैसला
शेफाली, निष्ठा और मंजरी अक्षरा और अभिमन्यु के हाथ की छाप देखती हैं। शेफाली और निष्ठा ने हैंडप्रिंट को सजाने का फैसला किया। मंजरी हाथ की छाप देखती है और कहती है कि अभिमन्यु का प्रिंट अक्षरा की तुलना में गहरा है।

वह सोचती है कि क्या अक्षरा को अभी भी कोई संदेह है। इधर अभिमन्यु अक्षरा से कहता है कि कमरा उनका इंतजार कर रहा है। अक्षरा और अभिमन्यु एक साथ कमरे में प्रवेश करते हैं।

मंजरी ने अक्षु को किया वार्न
इधर महिमा को अक्षरा की बात याद आती है और वह अनीशा की तस्वीर पकड़े रोती है। दूसरी तरफ अभि और अक्षु अपने कमरे में लिपस्टिक को लेकर मीठी नोक-झोंक करते हैं। इसके मंजरी अक्षरा को अभिमन्यु को दूसरी बार चोट पहुँचाने के बारे में वार्न करती है।

वह अक्षरा से अभिमन्यु के बारे में बातें करना शुरू करने के लिए कहती है क्योंकि बाद ने उसके लिए बहुत कुछ किया है। इसके बाद हर्ष मंजरी से पूछता है कि उसने केवल अक्षरा को ही सलाह क्यों दी। मंजरी कहती है क्योंकि अक्षरा हमेशा अभिमन्यु को चोट पहुँचाती है। हर्ष शॉक हो जाता है।

गोयनका हाउस में सुहासिनी और स्वर्णा आरोही के बारे में बात करती हैं। उन्हें लगता है कि आरोही बिड़ला के लायक नहीं हैं। आरोही बिड़ल हाउस में अपनी जगह बनाने के लिए अड़ी हुई है। वह एक योजना बनाती है। इधर अक्षरा और अभिमन्यु एक दूसरे के साथ रोमांटिक हो जाते हैं। [एपिसोड समाप्त]

प्रीकैप : आनंद ने बिड़ला अस्पताल के नए चिकित्सा निदेशक को नियुक्त करने का फैसला किया। उन्होंने अभिमन्यु के नाम की घोषणा की और बिड़ला परिवार को चौंका दिया।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter