पंजाब पुलिस गैंगस्टर लखबीर लंदा से जुड़े लोगों के ठिकानों पर कर रही छापेमारी , 330 से अधिक टिकानों पर की RAID

चंडीगढ़ :  मुख्यमंत्री भगवंत मान के सपने अनुसार पंजाब को अपराध मुक्त राज्य बनाने के लिए चलाई जा रही मुहिम के दौरान गैंगस्टर-आतंकवादी गठजोड़ के विरुद्ध कार्यवाही करते हुये पंजाब पुलिस ने रविवार को गैंगस्टर बने आतंकवादी लखबीर सिंह उर्फ लंडा से जुड़े शक्की व्यक्तियों के टिकानों पर बड़े स्तर पर छापेमारी की।

तरन तारन जिले के गाँव हरीके लखबीर लंडे से सम्बन्धित चल रहे अलग अलग मामलों को अंजाम तक पहुँचाने के मद्देनज़र उक्त गैंगस्टर से जुड़े रिहायशी और अन्य टिकानों पर एक ही समय छापेमारी की गई। इस ऑपरेशन का उद्देश्य भारत और विदेशों में स्थित आतंकवादियों, गैंगस्टरों और नशा तस्करों के आपसी गठजोड़ को तोड़ना था।

इस सम्बन्धी जानकारी देते हुये पंजाब पुलिस के डायरैक्टर जनरल (डीजीपी) गौरव यादव ने बताया कि पंजाब पुलिस की 142 पार्टियाँ, जिनमें 800 के करीब पुलिस मुलाजिम शामिल थे, की तरफ से दिन भर चले ऑपरेशन के दौरान लंडा से सम्बन्धित 334 व्यक्तियों पर छापेमारी की गई। उन्होंने बताया कि अकेले तरन तारन जिले में ही 65 पुलिस पार्टियों ने लखबीर लंडा से सम्बन्धित 171 व्यक्तियों के टिकानों पर छापेमारी की।

उन्होंने कहा, “आज की तलाशी की योजना हाल ही में लखबीर लंडा की हिमायत वाले माड्यूलें के पर्दाफाश किये जाने पर कई व्यक्तियों की पूछताछ के बाद अंजाम में लाई गई जिससे समाज विरोधी तत्वों में ख़ौफ़ पैदा किया जा सके और आम लोगों में सुरक्षा की भावना पैदा की जा सके।“

अन्य विवरण सांझे करते हुए, पुलिस के अतिरिक्त डायरैक्टर जनरल (एडीजीपी) कानून और व्यवस्था अर्पित शुक्ला ने कहा कि अधिक पूछताछ के लिए कई व्यक्तियों को हिरासत में लिया गया है और उनके कब्ज़े में से अपराधिक सामग्री ज़ब्त की गई है, जिनकी आगे जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि तलाशी मुहिम के दौरान एकत्रित किये गए आंकड़ों की आगे जांच की जा रही है।

ज़िक्रयोग्य है कि कैनेडा स्थित गैंगस्टर से आतंकवादी बने लखबीर सिंह उर्फ लंडा पंजाब और विदेशों में अलग-अलग अपराधिक गतिविधियों में शामिल है, जो पंजाब पुलिस का मोस्ट वांटेड अपराधी है। वह श्रेणी- ए का गैंगस्टर है जो 2017 में अलग-अलग जुर्म करने के बाद कैनेडा भाग गया था। कैनेडा में बैठ कर वह पंजाब में फिरौती, हत्याएँ और अन्य दहशती अपराधों में शामिल गैंगस्टरों का एक नैटवर्क चलाता है। वह अलग-अलग देशों में रहते अपने अन्य साथियों के साथ मिल कर इन अपराधों को अंजाम देता रहा है। वह पाकिस्तान स्थित हरविन्दर सिंह उर्फ रिन्दा का नज़दीकी साथी है और उसको पाकिस्तान की आईएसआई की तरफ से भी हिमायत प्राप्त है।

वह हाल ही में सरहाली के इंटेलिजेंस हैडक्वाटर और पुलिस थाने की इमारत पर हुए आर. पी. जी. हमलों का मास्टरमाईंड था। वह कत्ल, ऐनडीपीऐस एक्ट, फिरौती वसूलने, फिरौती और दहशत फैलाने से सम्बन्धित 31 ऐफआईआरज का सामना कर रहा है।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close