300 साल पुराने मंदिर पर चला बुलडोजर : भाजपा-कांग्रेस नेता आए आमने-सामने, दोनों ओर से लगाए गए आरोप प्रत्यारोप !

Rajsthan News : जयपुर । राजस्थान के अलवर जिले के राजगढ़ में प्राचीन मंदिरों को ताेड़े जाने का मामला तूल पकड़ने लगा है। इसे लेकर भाजपा और कांग्रेस पार्टी के नेता एक दूसरे के ऊपर आरोप लगा रहे हैं। भाजपा नेताओं का आरोप है कि कांग्रेस सरकार द्वारा मंदिरों पर की गई कार्रवाई से हिंदूओं की भावना को ठेस पहुंची है, जबकि यही पार्टी करौली और जहांगीरपुरी मामले में बयानबाजी करती है।

मीडिया के माध्यम से जारी की गई रिपोर्टस की मानें तो अलवर के राजगढ़ में तीन मंदिर पर गत 17 अप्रैल को बुलडोजर चलाने की कार्रवाई की गई। जिसमें करीब 300 साल से अधिक पुराने शिव मंदिर की मूर्तियां खंडित हो गई। मंदिर तोड़े जाने की वीडियो और तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। 

बताया जाता है कि मास्टर प्लान के तहत गोल सर्किल से मास्टर चौराहे तक अतिक्रमण में बनी दुकान और घरों को हटाने के लिए बुलडोजर की कार्रवाई की गई। जिसमें इस मंदिर के गुंबज सहित वहां मूर्तियों को क्षति पहुंचने की खबर है।

कांग्रेस विधायक का वीडियो हुआ वायरल : इस मामले में क्षेत्रीय लोगों का कहना है कि विधायक जौहरीलाल मीणा ने मंच से कहा था कि अगर यहां कांग्रेस का बोर्ड होता तो बुलडोजर नहीं चलता। अब बबूल का पेड़ बोया है तो आम कहां से आएगा। मैं कार्रवाई नहीं रोक पाउंगा। विधायक के इस बयान का वीडियो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

Image Source : INDIA TV

जौहरीलाल मीणा का यह वीडियो 14 अप्रैल का बताया जा रहा है। वह एक कार्यक्रम में राजगढ़ पहुंचे थे। वहीं इस मामले में ब्रज भूमि कल्याण परिषद ने कांग्रेस विधायक और तीन अधिकारियों पर मंदिर तोड़े जाने का आरोप लगाते हुए कांग्रेस विधायक जौहरीलाल मीणा, एसडीएम और नगरपालिका के सीआईओ के खिलाफ राजगढ़ थाने में शिकायत की है। 

विधायक बोले यह सब भाजपा का काम : इधर मामले के तूल पकड़ते ही विधायक के बोल भी बदल गए। राजगढ़ विधायक जौहरी लाल मीणा ने इस मामले में अपनी ओर से सफाई देते हुए कहाकि राजगढ़ में भाजपा का बोर्ड है।

जिसमें 35 पार्षदों के बोर्ड में 34 भाजपा के हैं। एक कांग्रेस का है। ऐसे में अतिक्रमण हटाना, सड़क चौड़ी करना और मंदिर हटाना सब निर्णय भाजपा बोर्ड लेता है। विधायक का कहना है कि मेरा पूरा परिवार भगवान में आस्था रखता है। हमने कुछ नहीं किया है।

वहीं इस सबको लेकर राजस्थान के भाजपा प्रवक्ता रामलाल शर्मा ने सीएम गहलोत की तुलना औरंगजेब से की है। इसके बाद गहलोत सरकार के मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने दिए अपने एक बयान में कहाकि भाजपा झूठ बोल रही है। 

भाजपा प्रतिनिधिमंडल तैयार करेगा रिपोर्ट : राजस्थान भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने जानकारी दी है कि इस मामले में पार्टी अलवर में एक प्रतिनिधि मंडल भेजेगी। जिसमें सीकर के सांसद सुमेधानंद सरस्वती, पार्टी उपाध्यक्ष नारायण सिंह देवल, विधायक चंद्रकांता मेघवाल शामिल होंगे।

जो अलवर जाएंगे और तीन दिन में उन्हें रिपोर्ट भेजेंगे। पूनिया ने कहा कि मुझे समझ नहीं आता कि 300 साल पुराना मंदिर कैसे अतिक्रमण हो सकता है।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close