बीएमओ ने स्टाफ रूम खाली कराकर बना दिया मरीज वार्ड तो नाराज हुई नर्सें, तनाव बढ़ने पर तहसीलदार ने पहुंचकर सुलझाया मामला

Datia News : दतिया। इंदरगढ़ स्वास्थ्य केंद्र में 3 दिन पूर्व बीएमओ द्वारा बनाए गए मरीज वार्ड को अस्पताल के नर्स स्टाफ ने बिना किसी को कुछ बताया खाली कर खुद के लिए स्टाफ रूम बना लिया। इस दौरान यहां रखे गए 4 पलंग सहित आकस्मिक िस्थति में आने वाले मरीजों के लिए आक्सीजन सिलंेडर आदि सामान को भी नर्सों ने बरामदे में उठाकर रख दिया।

जिस समय यह वार्ड खाली किया जा रहा था वहां एक महिला मरीज भी थी। जिसे दूसरे वार्ड में शिफ्ट कर कमरा खाली करा लिया गया। इस बात की शिकायत बीएमओ से की गई।

इस मामले में स्टाफ नर्स शुभी गुप्ता ने बताया कि बीएमओ के कहने पर हमने अपना रूम खाली किया था। जिसे मरीज वार्ड बनाया गया था। जबकि हमारे लिए एक छोटे से कमरे को स्टाफ रूम बना दिया गया।

जिसमें हम सभी स्टाफ नर्सों को रुकने में परेशानी हो रही थी, उस कमरे में ना गेट है ना ही कोई सुरक्षा। सभी स्टाफ नर्सों को रात में रुकने में वहां परेशानी आ रही थी। बीएमओ को इस बारे में स्टाफ ने लिखित आवेदन भी दिया था।

जिस पर उन्होंने दो-तीन दिन में व्यवस्था करने की बात कहकर मामला टाल रखा था। परेशानी बढ़ने पर नर्स स्टाफ ने मरीज भर्ती वार्ड को फिर से खाली कर अपना रूम यथावत बनाया लिया है।

वहीं जब इस बारे में इंदरगढ़ तहसीलदार सुनील भदौरिया को सूचना मिली तो वह अस्पताल पहुंचे। जहां उन्होंने चिकित्सक एवं स्टाफ नर्स से चर्चा की। स्टाफ नर्स द्वारा तहसीलदार को अपनी समस्या से अवगत कराया गया।

इस पर उन्होंने मरीज भर्ती वार्ड पुन: स्थापित करने के साथ स्टाफ नर्स के लिए उचित कमरे की व्यवस्था करने के बीएमओ डा.खरे को निर्देश दिए। साथ ही वार्डों में साफ सफाई को लेकर भी हिदायत दी।

जिस पर बीएमओ ने बताया कि अस्पताल में मात्र 3 सफाई कर्मचारी है। जिसके कारण यह कार्य प्रभावित हो रहा है। इसे लेकर उन्होंने ठेकेदार को भी नोटिस दिया है। इस दौरान इंदरगढ़ तहसीलदार के साथ नायब तहसीलदार दीपक यादव, डा.पूर्णांक खरे, डा.वर्मा, राजकुमार शर्मा एवं स्टाफ नर्स उपस्थित रहे।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close