लुधियाना बम ब्लास्ट: जर्मनी से भारत तक कनेक्शन, जेल से मिले 7 मोबाइल, आरोपी ने भी किया था इस्तेमाल

लुधियाना : लुधियाना अदालत परिसर में विस्फोट मामले की जांच कर रही एजेंसियों ने शहर के केंद्रीय कारागार से सात मोबाइल फोन बरामद किया है जिनमें से कुछ का इस्तेमाल आरोपी ने किया था। यह जानकारी बुधवार को पुलिस ने दी। उन्होंने बताया कि आगे की जांच के लिए फोन को फोरेंसिक प्रयोगशाला में भेजा गया है।

पंजाब पुलिस का बर्खास्त कर्मचारी गगनदीप सिंह 23 दिसंबर को हुए विस्फोट में मारा गया था। घटना में छह अन्य लोग घायल हो गए थे। पुलिस के मुताबिक गगनदीप अदालत परिसर स्थित प्रसाधन कक्ष में बम जोड़ने गया था ताकि उसे कहीं लगा सके।

गगनदीप को 2019 में सेवा से बर्खास्त कर दिया गया था और मादक पदार्थ से जुड़े एक मामले में उसने दो वर्ष लुधियाना की जेल में बिताए थे। सूत्रों ने बताया कि गगनदीप के साथ दो अन्य लोगों — रणजीत सिंह और सुखविंदर सिंह ने भी इन फोन का कथित तौर पर इस्तेमाल किया था। दोनों उसी जेल में बंद थे।

उन्होंने बताया कि पूछताछ के लिए रणजीत और सुखविंदर को पेशी वारंट पर लाया गया है।पुलिस के सूत्रों ने बताया कि जांच के दौरान पाया गया कि इन मोबाइल फोन से कुछ अंतरराष्ट्रीय कॉल भी किए गए। उन्होंने बताया कि इनमें से दो फोन का इस्तेमाल गगनदीप ने जेल में रहने के दौरान किए थे।

गगनदीप सितंबर में जमानत पर जेल से बाहर आया था।लुधियाना बस स्टैंड और सड़क किनारे लगे सीसीटीवी से हासिल किए गए फुटेज से पता चलता है कि गगनदीप ने 23 दिसंबर को खन्ना से लुधियाना आने के लिए बस का इस्तेमाल किया था।

Written & Source By : P.T.I

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close