21 जनवरी को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर 75,000 युवा योगासनों का करेंगे प्रदर्शन – डॉ. एल. मुरुगन

नई दिल्ली : आजादी का अमृत महोत्सव के अवसर पर अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के कार्यक्रम को राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रचारित करने के लिए भारत सरकार ने 17 जून, 2022 को धरोहरों के शहर कन्याकुमारी (तमिलनाडु) के विवेकानंद रॉक पर योग दिवस, 2022 के काउंटडाउन कार्यक्रमों का आयोजन किया।

इस कार्यक्रम को मत्स्यपालन, पशुपालन एवं डेयरी मंत्रालय, भारत सरकार और पशुपालन, डेयरी और मत्स्यपालन विभाग, तमिलनाडु सरकार ने संयुक्त रूप से आयोजित किया। कार्यक्रम के दौरान हुए योग अभ्यास में 500 से ज्यादा डेयरी किसान, छात्र और पशुपालक किसानों ने भाग लिया। इस कार्यक्रम का आयोजन विवेकानंद केंद्र के पीछे स्थित विवेकानंद रॉक पर और तीन समुद्रों के संगम पर किया गया, जो भारतीय उप महाद्वीप का सबसे दक्षिणी छोर है।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि माननीय मत्स्यपालन, पशुपालन एवं डेयरी राज्य मंत्री डॉ. एल. मुरुगन ने कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुए दैनिक जीवन में योग की उपयोगिता के बारे में बताया। साथ ही बताया कि योग कैसे तनाव में कमी और स्वास्थ्य में सुधार करता है।

डॉ. एल. मुरुगन ने योग के लाभों के लिए एक दिन में कम से कम एक घंटा योग के अभ्यास की आवश्यकता पर जोर दिया। इसके अलावा, उन्होंने इस अवसर पर कन्याकुमारी के प्रगतिशील डेयरी किसानों और मछुआरों के साथ भी संवाद किया।

A person standing on a boat with a crowd watchingDescription automatically generated with low confidence

 

आईएएस और तमिलनाडु सरकार में अपर मुख्य सचिव जवाहर ने अपने भाषण में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के महत्व और राज्य सरकारों के साथ सहयोग में भारत सरकार द्वारा आम आदमी को योग से परिचित कराने के लिए उठाए गए कदमों के बारे में बताया।

कन्याकुमारी जिले के जिलाधिकारी और आईएएस अरविंद ने अपने विशेष संबोधन में योग के महत्व के बारे में बताया और कहा कि स्वस्थ जीवनशैली के लिए योग खासा अहम है।

सीएफएसपीएंडटीआई, बेंगलुरु में निदेशक डॉ. बी. अरुण प्रसाद ने अपने संबोधन में कार्यक्रम के महत्व और “आजादी का अमृत महोत्सव” के साथ इसके संयोग के बारे में बताया। योग का अभ्यास एक शारीरिक व्यायाम है और इससे अपने मन और विचारों पर नियंत्रण रखने में भी मदद मिलती है।

इस कार्यक्रम में नागेरकोइल के विधायक  एम. आर. गांधी, पुलिस अधीक्षक  हरि किरन और विवेकानंद केंद्र के अधिकारियों ने भी भाग लिया।

 

 

Two people doing martial arts on a beachDescription automatically generated with low confidence

कार्यक्रम के दौरान योग नृत्य, शास्त्रीय नृत्य और तमिलनाडु के पारम्परिक नृत्य आदि भी हुए।सांस्कृतिक कार्यक्रमों के बाद हुए योग अभ्यास में 500 से ज्यादा प्रतिभागी उपस्थित रहे। सुप्रशिक्षित योग प्रशिक्षकों ने योग प्रशिक्षण सत्र संपन्न कराया, जिसमें माननीय राज्य मंत्री. एल. मुरुगन ने उत्साह के साथ भाग लिया और उनके साथ केंद्र और राज्य सरकार के पशुपालन विभाग के अधिकारी भी उपस्थित रहे।

कार्यक्रम के अंत में डीएएचडी, भारत सरकार में सहायक आयुक्त डॉ. अनिरुद्ध उदयकर ने सभी के प्रति आभार प्रकट किया। माननीय मंत्री ने वहां लगे पारम्परिक हस्तशिल्पों के स्टॉलों का जायजा भी लिया। उन्होंने राज्य दुग्ध संघ द्वारा प्रदर्शित किए गए दुग्ध उत्पादों के स्टॉल का भी भ्रमण किया।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close