Dwarka Expressway : 9000 करोड़ की लागत से बन रहा देश का पहला एलिवेटेड 8-लेन एक्सप्रेसवे

दिल्ली  : केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि 9000 करोड़ रुपये की लागत से 29.6 किलोमीटर लंबाई का देश का पहला एलिवेटेड 8-लेन एक्सेस कंट्रोल द्वारका एक्सप्रेसवे अप्रैल 2024 में लगभग पूरा हो जाएगा। उन्होंने कहा कि हरियाणा में 18.9 किमी सिंगल पिलर और दिल्ली में 10.1 किमी लंबे सिंगल पिलर पर 34 मीटर चौड़ा एक्सप्रेस-वे बनाया जा रहा है।

गडकरी ने दिल्ली के उपराज्यपाल  विनय कुमार सक्सेना, केंद्रीय राज्य मंत्री  जनरल वी.के. सिंह, केंद्रीय राज्य मंत्री  राव इंद्रजीत सिंह, सांसद प्रवेश सिंह वर्मा और सांसद रमेश बिधूड़ी के साथ एक्सप्रेसवे का निरीक्षण किया

मीडिया से बातचीत करते हुए  गडकरी ने कहा कि इस एक्सप्रेसवे का सड़क नेटवर्क चार स्तरों का है।  उन्होंने कहा कि टनल, अंडरपास, ग्रेड रोड, एलिवेटेड रोड और फ्लाईओवर पर फ्लाईओवर का निर्माण किया जा रहा है।  एक्सप्रेसवे के दोनों ओर थ्री लेन सर्विस रोड का निर्माण किया जा रहा है। मंत्री ने कहा कि दिल्ली में इस एक्सप्रेसवे पर देश की सबसे चौड़ी 3.6 किलोमीटर लंबी 8 लेन की सुरंग बनाई जा रही है। उन्होंने कहा कि इससे हरियाणा और पश्चिमी दिल्ली के लोगों का इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से संपर्क बेहतर होगा।

 गडकरी ने कहा कि हरियाणा में यह एक्सप्रेसवे हरसरू के पास पटौदी रोड (एसएच-26) और बसई के पास फरुखनगर (एसएच-15ए) पर मिलेगा, इसके अलावा, यह गुड़गांव सेक्टर-88 (बी) के पास दिल्ली- रेवाड़ी रेल लाइन और भरथल में यूईआर-II को क्रॉस करेंगा।  

उन्होंने कहा कि एक्सप्रेस-वे गुड़गांव के सेक्टर-21 को सेक्टर-88, 83, 84, 99, 113 और द्वारका को ग्लोबल सिटी से जोड़ेगा  उन्होंने कहा कि इस पूरे एक्सप्रेसवे में इंटेलिजेंट ट्रांसपोर्ट सिस्टम (आईटीएस) सुविधा होगी।

width="500"

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close