पंचायत चुनाव का असर : शहर में भी शस्त्र लेकर घूमने पर रहेगी पाबंदी, थाने में जमा कराने से मिली छूट, गृहमंत्री ने कलेक्टर को दिए निर्देश

Datia News : दतिया । पंचायत चुनाव के दौरान शहरी क्षेत्र के शस्त्रधारियों पर भी पाबंदी रहेगी। वह अपने शस्त्र लेकर नहीं खुलेआम नहीं घूम सकेंगे। जबकि उनके शस्त्र थानों में जमा न कराने की छूट पूर्ववत रहेगी।

सिर्फ ग्रामीण क्षेत्रों के ही शस्त्र जमा कराए जाएंगे। गृहमंत्री डा.नरोत्तम मिश्रा ने रविवार को यह जानकारी दतिया में आयोजित कार्यक्रम के दौरान दी।

इसके बाद शहरी क्षेत्र के शस्त्रधारियों को अपने शस्त्र थानों में जमा कराने से राहत रहेगी। लेकिर शहर में हथियार लेकर चलने पर पाबंदी रहेंगी।

गृहमंत्री डा.नरोत्तम मिश्रा ने कलेक्टर को इस संबंध में निर्देश भी दिए हैं। इस संबंध में उपजिला निर्वाचन अधिकारी कमलेश भार्गव ने जानकारी देते हुए बताया कि शहरी क्षेत्र के शस्त्र जमा नहीं कराए जाने के निर्देश गृहमंत्री द्वारा दिए गए है। लेकिन शहर के लोगों काे शस्त्र लेकर चलने पर रोक रहेगी।

13 दिसंबर से शुरू होगा नामांकन दाखिले का सिलसिला

वहीं 13 दिसंबर से पंचायत चुनाव के नामांकन भरने की प्रक्रिया भी शुरू होगी। जिसे लेकर प्रशासनिक स्तर पर सभी तैयारियां पूरी कर ली गई। पंचायत चुनाव में दावेदारी करने वाले उम्मीदवार आनलाइन भी नामांकन भर सकेंगे।

जिसकी हार्डकापी उन्हें बाद में विधिवत जमा करना होगी। नामांकन दाखिले को लेकर तमाम दावेदार सामने आने लगे हैं। पंचायत चुनाव की बाट जोह रहे उम्मीदवारों को काफी इंतजार के बाद अपनी किस्मत आजमाने का मौका मिला है।

कोरोना काल में जनसेवा का पूरा लाभ उठाने के लिए उम्मीदवार लगता है कि इस बार कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। जिले में 10 जिला पंचायत सदस्यों, जिले की तीनों जनपद पंचायतों के कुल 73 जनपद सदस्यों, जिले की 290 ग्राम पंचायतों के 290 सरपंचों और 4 हजार 694 ग्राम पंचायतों के पंच पद के निर्वाचन होना है। जिसके मतदान के लिए 894 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। जहां 4 लाख 65 हजार 794 ग्रामीण मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग करेंगे।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter