पदयात्रा करते हुए मां पीतांबरा के दरबार में पहुंचेंगे ऊर्जा मंत्री तोमर, अपनी मन्नत पूरी होने पर 75 किमी चलेंगे पैदल !

ग्वालियर : ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर 7 अप्रैल को पदयात्रा करते हुए मां पीतांबरा के दरबार में पहुंचेंगे। ऊर्जा मंत्री की ग्वालियर से चलकर दतिया तक पहुंचने की 75 किलोमीटर की पदयात्रा चार दिन में पूरी होगी। पदयात्रा के दौरान तोमर 7 जगह ठहरेंगे। जहां वह चौपाल लगाकर लोगों की समस्याएं भी सुनेंगे।

जन चौपाल और जनशिकायत निवारण शिविर भी पदयात्रा के दौरान होने के कारण ऊर्जा मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों से लेकर तमाम इंजीनियर भी सड़क पर ऊर्जामंत्री के साथ होंगे। प्रोटोकॉल के कारण ऊर्जा मंत्री की पदयात्रा के साथ प्रशासनिक अफसर, पुलिस अधिकारी भी व्यवस्था संभालते नजर नजर आएंगे।

ऊर्जा मंत्री तोमर ने अपनी इस पदयात्रा के बारे में कहा है कि आमजन की समस्याओं के निराकरण के लिए पीतांबरा माई के दरबार तक पदयात्रा करुंगा और रास्ते में शिविर लगाकर लोगों की समस्याएं भी दूर करुंगा।ऊर्जामंत्री के मुताबिक उन्होंने पैदल यात्रा कर मां पीतांबरा के दर्शन की मन्नत मांगी थी।

लोगों की खुशहाली और तरक्की के लिए वह पैदल चलकर दर्शन दतिया में मां के दरबार में आएंगे। इस दौरान मंत्री तोमर पदयात्रा के बीच में आने वाले गांव, नगर, शहर व जिले में ऊर्जा विभाग से जुड़ी समस्याओं को भी दूर करेंगे।

4 अप्रैल से शुरू होगी पदयात्रा : पदयात्रा के दौरान ऊर्जा मंत्री तोमर 4 अप्रैल को सुबह 8 बजे से कोटेश्वर मंदिर ग्वालियर से पदयात्रा शुरू करते हुए रवाना होंगे। वह इस दौरान घासमंडी चौराहा, किला गेट, हजीरा, पड़ाव, सिंधिया कन्या विद्यालय, बसंत विहार, चेतकपुरी, झांसी रोड थाना, विक्की फेक्ट्री होते हुए एम्पायर रिसार्ट पर प्रथम दिन की पदयात्रा पूर्ण करेंगे।

जहां वह रीजेंसी गार्डन, विक्की फैक्ट्री पर शाम 5 बजे और एम्पायर रिसार्ट में रात्रि 8 बजे से जन-चौपाल एवं शिकायत निवारण शिविर लगाएंगे। यहीं रात्रि विश्राम भी करेंगे।

पांच अप्रैल को पहुंचेंगे जौरासी : ऊर्जा मंत्री तोमर यात्रा के दूसरे दिन 5 अप्रैल की सुबह 6 बजे एम्पायर रिसार्ट से होते हुए सुबह 10 बजे जुरासिक पार्क जौरासी में जन-चौपाल एवं शिकायत निवारण शिविर में भाग लेंगे। बाद रात्रि 8 बजे टेकनपुर में होटल शीला में जन-चौपाल एवं शिकायत निवारण शिविर में उपभोक्ताओं की शिकायतों का निराकरण कर यहां रात्रि विश्राम करेंगे।

छह अप्रैल को दतिया जिले की सीमा में करेंगे प्रवेश : पदयात्रा के तीसरे दिन 6 अप्रैल को डबरा में सुबह 10 बजे जलसा मैरिज गार्डन में लोगों से मिलेंगे। शाम 4 बजे वहां से पैदल निकलकर रात 8 बजे गोराघाट के रंगला पंजाब में जन-चौपाल एवं शिकायत निवारण शिविर लगाया जाएगा।

सात अप्रैल को मां पीतांबरा के दरबार में लगेगी हाजिरी : पदयात्रा के अंतिम और चौथे दिन 7 अप्रैल को सुबह 6 बजे गोराघाट से प्रस्थान कर दोपहर 12 बजे दतिया पहुंचेंगे। जहां ब्लू स्टार में जन-चौपाल एवं शिकायत निवारण शिविर का आयोजन होगा।

ऊर्जा मंत्री तोमर शाम 4 बजे मां पीताम्बरा के दरबार में पहुंचकर हाजिरी लगाएंगे। इसके साथ ही उनकी पदयात्रा की मन्नत भी पूरी हो जाएगी। यहां से दर्शन कर शाम 6 बजे पदयात्रा समाप्त कर वह ग्वालियर के लिए रवाना होंगे।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close