कोरोना का असर: स्वास्थ्य, तंदुरुस्ती और न्यूट्रीशन के प्रति अधिक जागरूक हुआ भारतीय उपभोक्ता

नई दिल्ली : सलाहकार फर्म ईवाई इंडिया के एक सर्वेक्षण के अनुसार भारतीय उपभोक्ता स्वास्थ्य और तंदुरुस्ती संबंधी गतिविधियों पर अधिक खर्च करने को तैयार हैं।  सर्वेक्षण में यह भी कहा गया कि कोविड महामारी के चलते आए बदलाव के कारण अब भारतीय उपभोक्ता प्राकृतिक भोजन, पूरक आहार और विशेष खानपान पर भी जोर दे रहे हैं। कोविड-19 महामारी के साथ ही स्वास्थ्य और प्रतिरक्षा को लेकर लोगों में जागरुकता बढ़ी है। 

सर्वेक्षण से पता चला कि विश्व स्तर पर 82 प्रतिशत लोग अपने परिवार के स्वास्थ्य के बारे में चिंतित हैं, जबकि भारत में यह आंकड़ा 94 प्रतिशत है।  ईवाई के मुताबिक 52 प्रतिशत लोगों ने कहा कि कोविड-19 के बाद भी स्वास्थ्य को लेकर उनके व्यवहार में आया बदलाव जारी रहेगा, जबकि विश्व स्तर पर  ऐसा सिर्फ 39 प्रतिशत लोगों ने कहा। 

ईवाई इंडिया के नेशनल लीडर (उपभोक्ता उत्पाद और खुदरा क्षेत्र) अंगशुमन भट्टाचार्य ने कहा कि कुछ लोग इसे एक अल्पकालिक घटना के रूप में देखते हैं, लेकिन उम्मीद है कि इससे व्यक्तिगत स्वास्थ्य, स्वच्छता, तंदुरुस्ती और संपूर्ण पोषण को बढ़ावा मिलेगा।

Written & Source by : P.T.I

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close