नवरात्रि के शनिवार से मां धूमावती के दर्शनों का बढ़ा समय, शाम को 6 से 8 बजे तक खुलेंगे पट, पीठ पर उमड़ेगी भीड़

Datia News : दतिया। चैत्र नवरात्रि आज 2 अप्रैल से आरंभ हो रही है। चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से नवरात्रि की शुरुआत होती है। इसी दिन गुड़ी पड़वा, नवसंवत्सर के साथ ही भगवान झूलेलाल के जन्मोत्सव के रुप में चेटीचांद पर्व मनाया जाता है। इसी दिन से िहंदू नववर्ष की शुरुआत होती है। नववर्ष का विक्रम संवत 2079 भी आज से शुरू हाेगा।

इधर नवरात्रि पर्व को लेकर सभी प्रमुख माता मंदिरों को खासतौर पर सजाया गया है। कोरोना के दाे वर्ष बाद इस बार की नवरात्रि में माता मंदिरों में धूमधाम दिखेगी। विजयाकाली माता मंदिर पर नवरात्रि के दौरान अलसुबह से ही महिलाओं द्वारा जलाभिषेक का क्रम शुरू हो जाएगा। यहां मेले के साथ पूजा अनुष्ठान के आयोजन भी संपन्न होंगे।

इधर 2 अप्रैल से शुरु होने वाली चैत्र नवरात्रि के प्रथम दिन ही शनिवार होने के कारण पीतांबरा पीठ पर श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ेगी। इसे लेकर पीठ पर सुरक्षा के खास इंतजाम किए गए हैं। दतिया िस्थत प्रसिद्ध पीतांबरा पीठ मंदिर पर सुरक्षा व्यवस्था को लेकर पीठ प्रबंधन द्वारा मांगे गए अतिरिक्त पुलिस बल की पूरे नवरात्रि तैनाती रहेगी।

इस बार शनिवार को पीठ के नवीन प्रवेश द्वार से मां धूमावती के दर्शन के लिए के श्रद्धालुओं के आने जाने की व्यवस्था रहेगी। यहां रेलिंग आदि की व्यवस्था की गई है ताकि मंदिर में श्रद्धालुओं को दर्शन के दौरान सुविधाजनक िस्थति बनी रहे।

वहीं मां धूमावती के दर्शनाें के समय में भी वृद्धि की गई है। ताकि बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं को वापिसी में परेशानी न हो। सेवढ़ा क्षेत्र में िस्थित मां रतनगढ़ के दरबार में भी नवरात्रि के दौरान श्रद्धालुओं की खासी भीड़ रहेगी। भांडेर में रामगढ़ वाली कालीमाता मंदिर पर भी नवरात्रि के दौरान स्थानीय प्रशासन की ओर से व्यवस्थाएं की गई हैं।

मां धूमावती के दर्शनों का समय बढ़ा

पीतांबरा पीठ पर विराजमान मां धूमावती के दर्शनाें के लिए शनिवार को पीठ पर श्रद्धालुओं की खासी भीड़ रहती है। इस बार नवरात्रि के प्रथम दिन ही शनिवार पड़ने से पीठ पर श्रद्धालुओं का खासा जमावड़ा रहेगा।

ऐसे में पीठ प्रबंधन ने मां धूमावती मंदिर के खुलने के समय में परिवर्तन किया है। मां धूमावती के दर्शन के लिए अाधा घंटा समय बढ़ाया गया है। पीठ के व्यवस्थापक बीपी पाराशर ने बताया कि 2 अप्रैल शनिवार से मां धूमावती के दर्शनों का समय शाम को 6 बजे से 8 बजे तक रहेगी।

अभी मंदिर खुलने का समय शाम 7.15 से 8.45 बजे तक था। जबकि सुबह के समय मंदिर यथावत सुबह 7.15 बजे से सुबह 9 बजे तक खुलेगा। बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं को दर्शनों के समय में बढ़ोत्तरी से सुविधा होगी और वह सही समय पर वापिस लौट सकेंगे।

पीठ पर रहेंगे सुरक्षा के खास इंतजाम

मंदिर के उत्तर-दक्षिण तथा वीआईपी द्वार की सुरक्षा व्यवस्था पूरी तरह से पुलिस के हाथों में रहेगी। पुलिस विभाग को भी अतिरिक्त बल के लिए मंदिर ट्रस्ट ने पत्र लिखकर मांगा था। जो उपलब्ध करा दिया गया है। साथ ही मंदिर के प्रवेश द्वार के मैटल डिटेक्टर से जांच की व्यवस्था भी रहेगी। चैत्र नवरात्रि के दौरान पीतांबरा पीठ पर शतचंडी पाठ के साथ पूर्णाहुति यज्ञ का आयोजन भी होगा।

पीठ प्रबंधन ने कोरोना काल में बंद की गई मंत्र दीक्षार्थियों के लिए आवास एवं भोजन व्यवस्था कुछ नियमों के साथ फिर से शुरू कर दी है। चैत्र नवरात्रि पर पीतांबरा मंदिर ट्रस्ट और जिला व पुलिस प्रशासन की ओर से सुरक्षा सुविधाओं संबंधी व्यवस्थाएं की जा रही है। मंदिर परिसर में लगे सीसीटीवी कैमरों के माध्यम से भी व्यवस्थाओं पर नजर रखी जाएगी।

चैत्र नवरात्रि में पीतांबरा पीठ पर वीआईपी मूवमेंट भी बढ़ जाएगा। जिसे देखते हुए यहां सुरक्षा के खास इंतजाम किए गए हैं। मंत्री से लेकर तमाम वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी माई के दरबार में हाजिरी लगाने इन नौ दिनों में दतिया पहुंचते हैं। इसके साथ ही मप्र सहित बाहरी राज्यों से भी कई आईएएस और आईपीएस अधिकारी भी पीठ पर पहुंचकर साधना में शामिल होते हैं।

माता मंदिरों पर रहेगी भक्तों की भीड़

शहर िस्थत विजयाकाली माता मंदिर नवरात्रि के दौरान भारी भीड़ रहेगी। यहां अलसुबह से ही महिला श्रद्धालुजन माता का जलाभिषेक करने पहुंचती है। जिसे लेकर यहां सुरक्षा के इंतजाम किए गए हैं।

इसके साथ चिरईटोर की माता व शहर से पांच किलोमीटर दूर खैरीमाता के दरबार में भी पूरे नौ दिन श्रद्धालुओं के पहुंचने का क्रम रहेगा। वहीं रतनगढ़ माता के दरबार में भी काफी संख्या में श्रद्धालु दर्शन करने पहुंचेंगे। माता मंदिरों पर आकर्षक सजावट के साथ वहां अन्य आवश्यक प्रबंध किए गए हैं।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close