सीसीटीवी कैमरे की फुटेज से पकड़ा गया चोरों का गैंग, लग्जरी कार से जाकर करते थे चोरियां, सूने फ्लेट को बनाते थे निशाना

Gwalior News : ग्वालियर । सीसीटीवी कैमरे की फुटेज से ग्वालियर पुलिस टीम ने अंतराज्यीय गैंग के पांच शातिर बदमाशों को गिरफ्तार किया है। गैंग के सदस्य शहरों की पाॅश कालोनियों में जाकर चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया करते थे। गैंग का मास्टरमाइंड 73 साल का बुजुर्ग है।

यह गैंग दिल्ली से लग्जरी कारों से निकलती थी। शातिर चोर रास्ते में जिस भी स्टेट की सीमा पड़ती, उसकी नंबर प्लेट अपनी कारों पर लगा लेते थे। सभी की जेब में क्राइम इंवेस्टिगेशन डिपार्टमेंट की आईडी होती थी।

इससे वह कार टोल से आसानी से निकाल ले जाते थे। चोर गैंग पॉश मल्टी के सूने फ्लैट को निशाना बनाकर माल समेटकर निकल जाते थे। यह गैंग ग्वालियर में ही 6 वारदात कर चुके थे।

पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने बताया कि गैंग को पकड़ने के लिए क्राइम ब्रांच और मुरार थाना पुलिस की 6 टीमें दिल्ली भेजी गई थीं। पुलिस को कुछ स्पॉट से सीसीटीवी कैमरे के फुटेज मिले थे।

इसके आधार पर टीम ने चोरी की घटनाओं को अंजाम देने वाली गैंग को दबोच लिया। गिरोह का मास्टरमाइंड 73 साल का शकील खान है। उसके अलावा 4 अन्य बदमाश भी पकड़े गए हैं।

कई वर्ष से सक्रिय है गैंग

गैंग के सदस्यों ने ग्वालियर के साईं अपार्टमेंट, थाटीपुर, विश्वविद्यालय और ऑर्किड ग्रीन सिटी सेंटर में वारदात करना स्वीकार किया है। इनके पास से 8 तोला सोना, 700 ग्राम चांदी के जेवर, 75 हजार रुपये बरामद हुए हैं।

जब पुलिस ने गिरोह के बारे में छानबीन की तो पता चला कि यह इंटरस्टेट गिरोह 1990 से लगातार चोरी और नकबजनी की वारदात को अंजाम देता आ रहा है।

पुलिस टीम ने इस गैंग के सदस्य नासिर शेख निवासी कबीर नगर शाहदरा (दिल्ली), इशरत अली निवासी खुरेजी खाज (दिल्ली), राजू उर्फ राजेन्द्र ग्वाला निवासी प्रेमनगर (गाजियाबाद यूपी), शकील खान (73) निवासी प्रेमनगर (गाजियाबाद यूपी), राजू अली निवासी रामनगर शाहदरा (दिल्ली) को गिरफ्तार किया है।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close