gangubai kathiawadi biography in hindi,gangubai kathiawadi real story in hindi,gangubai kathiawadi wikipedia in hindi,gangubai kathiawadi kon thi,गंगूबाई काठियावाड़ी जीवनी
Gangubai Kathiawadi Movie Review in Hindi,Gangubai Kathiawadi Movie Story in Hindi,gangubai kathiawadi movie rating,gangubai kathiawadi movie critics review in hindi,गंगूबाई काठियावाड़ी कौन थी

gangubai kathiawadi biography in hindi

गंगूबाई काठियावाड़ी जीवनी : हमारे भारत देश में ऐसी बहुत सी कहानियां और किस्से हैं जो लोगों के सामने नहीं आ पाते हैं। क्योंकि उन्हें कोई जरिया नहीं मिल पाता है जिससे उनकी दर्दनाक कहानी दुनिया के सामने आ सके और उनके जीवन का सबक बन सके। एक ऐसी कहानी जो आज तक किसी ने नहीं सुनी वह बॉलीवुड के बड़े पर्दे पर नजर आने वाली है।

एक ऐसी महिला जिसने अपने जीवन में बहुत दयनीय स्थिति देखी और एक वेश्या के रूप में मशहूर हुई। उस चरित्र का नाम है गंगूबाई काठियावाड़ी जिसके बारे में आज हम विस्तार से जानेंगे.(gangubai kathiawadi biography in hindi)

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Gangubai 🤍🙏 (@aliaabhatt)

संजय लीला भंसाली जल्द ही फिल्म ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ लेकर आ रहे हैं, जिसमें आलिया भट्ट लीड रोल में दिखाई देंगी। फिल्म का टाइटल पोस्टर और ऐक्ट्रेस का फर्स्ट कैरेक्टर लुक हाल ही में जारी किया गया जिसे शानदार रिस्पॉन्स मिला है।

लेकिन क्या आप जानते हैं कि आखिर में गंगूबाई काठियावाड़ी थीं कौन, जिन्हें ‘मुंबई की माफिया क्वीन’ कहा जाता था।(gangubai kathiawadi biography in hindi)

भंसाली लेखक एस हुसैन जेदी की किताब ‘माफिया क्वीन्स ऑफ मुंबई’ के आधार पर इस फिल्म को बना रहे हैं। किताब के मुताबिक, गंगूबाई काठियावाड़ी का असली नाम गंगा हरजीवनदास था और वह गुजरात के एक समृद्ध परिवार से ताल्लुक रखती थीं

gangubai kathiawadi wikipedia in hindi

बॉलीवुड के दिग्गज निर्देशकों की लिस्ट में शामिल संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ का पहला मोशन पोस्टर मंगलवार को रिलीज किया गया। मोशन पोस्टर सोशल मीडिया पर साझा करने के साथ ही वायरल हो गया। फिल्म में आलिया भट्ट ‘गंगूबाई’ की भूमिका में नजर आएंगी।

gangubai kathiawadi real story in hindi

फिल्म का नाम सामने आने के साथ ही आपने भी जरूर सोचा होगा कि आखिर कौन हैं गंगूबाई, तो आपके इस सवाल का जवाब हम इस स्पेशल रिपोर्ट में देंगे।(gangubai kathiawadi biography in hindi)

संजय लीला भंसाली के साथ पहली बार आलिया भट्ट की जोड़ी बन रही है। इससे पहले भंसाली आलिया भट्ट और सलमान खान को लेकर ‘इंशाअल्लाह’ प्लान कर रहे थे,

गंगूबाई काठियावाड़ी जीवनी

लेकिन किन्हीं वजहों से सलमान ने अपने कदम पीछे खींच लिए, जिस कारण यह फिल्म ठंडे बस्ते चली गई। जिसके बाद संजय लीला भंसाली ने फिल्म ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ का एलान किया था।(gangubai kathiawadi biography in hindi)

फिल्म की कहानी हुसैन जैदी की किताब माफिया क्वीन्स ऑफ मुंबई पर आधारित है जिसमें आलिया गंगूबाई के किरदार में हैं।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Gangubai 🤍🙏 (@aliaabhatt)

gangubai kathiawadi real story in hindi

ट्रेलर में आलिया का लुक और एक्टिंग आपको हैरान कर देगा। अजय देवगन गैंगस्टर करीम लाला के किरादर में दिखाई देंगे। फिल्म में अजय और आलिया भाई-बहन के किरदार में नजर आएंगे। (gangubai kathiawadi biography in hindi)

करीम लाला अपनी मुंह बोली बहन गंगूबाई से बेहद प्यार करते है और वह गंगूबाई की उस समय मदद करता है जब सभी ने गंगूबाई का साथ छोड़ दिया था। फिल्म में करीम लाला अपनी बहन को बचाएगा और उसे मुंबई के कोठे का चीफ बनाने में भी मदद करेगा।

gangubai kathiawadi biography in hindi,gangubai kathiawadi real story in hindi,gangubai kathiawadi wikipedia in hindi,gangubai kathiawadi kon thi,गंगूबाई काठियावाड़ी जीवनी,गंगूबाई काठियावाड़ी कौन थी,

gangubai kathiawadi wikipedia in hindi

गंगूबाई कठियावाड़ी का असली नाम गंगा हरजीवनदास काठियावाड़ी है। उनके गुजरात के काठियावाड़ से ताल्लुक थे। बता दें ये मुंबई के हीरामंडी नाम की जगह पर कोठा चलाती थीं।

साथ ही वे देश के कई शहरों में फ्रेंचाइजी कोठे खोलने वाली पहली महिला थीं। बता दें इनका इतना दबदबा था कि कोई भी उनसे मुसीबत मोल लेने से डरता था।(gangubai kathiawadi biography in hindi)

gangubai kathiawadi real story in hindi

आपको बता देते हैं कि केवल 16 साल की उम्र में गंगूबाई अपने पिता के अकाउंटेंट के प्यार में पागल हो गई थीं और मुंबई जाकर शादी के बंधन में बंध गई थीं। इसके बाद उनके पति ने 500 रुपये के लिए उन्हें एक कोठे पर बेच दिया था जिसके बाद गंगूबाई को परेशानियां झेलनी पड़ी और वह कोठेवाली गंगूबाई बन गईं

लेखक एस हुसैन जैदी की किताब ‘माफिया क्वीन्स ऑफ मुंबई’ के मुताबिक गंगूबाई गुजरात के कठियावाड़ की रहने वाली थीं, जिसके चलते उनको गंगूबाई कठियावाड़ी कहा जाता था। छोटी उम्र में ही गंगूबाई को वेश्यावृति के लिए मजबूर किया गया।

वहीं बाद में कुख्यात अपराधी गंगूबाई के ग्राहक बने। गंगूबाई मुंबई के कमाठीपुरा इलाके में कोठा चलाती थीं। वहीं गंगूबाई ने सेक्सवर्कस और अनाथ बच्चों के लिए बहुत काम किया था।(gangubai kathiawadi biography in hindi)

gangubai kathiawadi wikipedia in hindi

कोठे पर उन्हें जबरन वेश्यावृत्ति में धकेल दिया गया। इस दौरान गंगूबाई बन चुकी गंगा की मुलाकात मुंबई के कई कुख्यात अपराधियों व माफिया से हुई, जो वहां ग्राहक बनकर आते थे।

उस दौर में मुंबई के एक इलाके पर कुख्यात डॉन करीम लाला का राज चलता था। कमाठीपुरा भी इसी इलाके में आता था। एक बार गंगूबाई के साथ करीम लाला के गुंडे ने रेप किया।

gangubai kathiawadi biography in hindi,gangubai kathiawadi real story in hindi,gangubai kathiawadi wikipedia in hindi,gangubai kathiawadi kon thi,गंगूबाई काठियावाड़ी जीवनी,गंगूबाई काठियावाड़ी कौन थी,

gangubai kathiawadi real story in hindi

इसका न्याय मांगने के लिए वह करीम लाला के पास गईं और इस दौरान उसे राखी भी बांधी।(gangubai kathiawadi biography in hindi)

करीम लाला ने अपनी राखी बहन को कमाठीपुरा की कमान दे दी और तब से उस इलाके में फैसले गंगूबाई की इजाजत से होने लगे।

Also Read : amitabh dayal biography

गंगूबाई काठियावाड़ी जीवनी

इसके बाद गंगूबाई का ऐसा दबदबा कायम हुआ कि लोग उन्हें नाराज करने से भी डरने लगे। बड़े-बड़े माफिया, डॉन व गैंग्स के बीच भी उनका दबदबा बनने लगा।(gangubai kathiawadi biography in hindi)

gangubai kathiawadi wikipedia in hindi

गंगूबाई का जीवन जिस तरह बदला उसका दर्द वह कभी भूल नहीं पाईं। वह कभी भी किसी लड़की को अपने कोठों पर जबरन नहीं रखती थीं। वह किसी से जबरदस्ती की भी इजाजत नहीं देती थीं। वह सेक्सवर्कर और अनाथ बच्चों की स्थिति सुधारने के लिए भी काम करती थीं।

गुजरात के एक सम्मानित परिवार की इकलौती बेटी गंगूबाई काठियावाड़ थी। जिन्हें आगे चलकर उनके जीवन की कठिन परिस्थितियों ने अपराधी, डॉन, एक वेश्या, बिजनेस वूमेन बना दिया।

gangubai kathiawadi biography in hindi,gangubai kathiawadi real story in hindi,gangubai kathiawadi wikipedia in hindi,gangubai kathiawadi kon thi,गंगूबाई काठियावाड़ी जीवनी,गंगूबाई काठियावाड़ी कौन थी,

गंगूबाई काठियावाड़ी जीवनी

ऐसा कहा जाता है कि गंगूबाई पहली ऐसी महिला थी जो 60 के दशक में डॉन की तरह रहा करती थी उनसे कोई भी पंगा लेने से पहले सौ बार सोचा करता था। वे एक कोठा चलाया करती थी जिसकी पूरे देश में कई सारी ब्रांच भी थी।(gangubai kathiawadi biography in hindi)

गंगूबाई का जन्म गुजरात के काठियावाड़ नामक स्थान पर हुआ था। गंगूबाई के परिवार के सदस्य बेहद सम्मानजनक परिवार के थे।

gangubai kathiawadi wikipedia in hindi

जो बेटियों को पढ़ा लिखा कर आगे बढ़ाने में विश्वास रखते थे। गंगूबाई उनके परिवार की इकलौती बेटी थी जिसे वे पढ़ा लिखा कर कुछ बनाना चाहते थे, परंतु गंगूबाई की दिलचस्पी पढ़ाई में नहीं बल्कि फिल्मों में ज्यादा थी।

गुजरात के उस परिवार में गंगूबाई का जन्म 1939 में हुआ था। वे हमेशा से ही हीरोइन बनने का सपना देखा करती थी और मुंबई जाने की बातें किया करते थे।(gangubai kathiawadi biography in hindi)

गंगुबाई जी के पिता के पास एक अकाउंटेंट काम करता था, जिसका नाम रमणीक था। गुजरात आने से पहले वह मुंबई में रहा करता था.

गंगूबाई काठियावाड़ी जीवनी

यह बात जब गंगूबाई को पता चली तो जैसे उसे लगा कि उसको मुंबई जाने का रास्ता मिल गया। धीरे-धीरे रमणीक के साथ उसकी दोस्ती हो गई और दोस्ती प्यार में बदल गई।

जब जेब में पैसे ना हो तो आदमी टूट जाता है और वो ही रमणीक के साथ हो रहा था। बॉम्बे तो भाग कर आ गए लेकिन आगे पूरी जिंदगी निकले कैसे? हाथ में नौकरी नहीं और रहने को छत नहीं, इस सोच में आदमी कोई भी काम करने के लिए तैयार हो जाता है।

gangubai kathiawadi biography in hindi,gangubai kathiawadi real story in hindi,gangubai kathiawadi wikipedia in hindi,gangubai kathiawadi kon thi,गंगूबाई काठियावाड़ी जीवनी,गंगूबाई काठियावाड़ी कौन थी,

gangubai kathiawadi kon thi

रमणीक ने केवल 500 रुपयों में अपनी पत्नी गंगा को मुंबई के एक मशहूर स्थान रेड लाइट एरिया कमाठीपुरा के एक कोठे वाली को बेच देता है।(gangubai kathiawadi biography in hindi)

रमणीक गंगा को कहता है कि काम ढूँढने के लिए बॉम्बे से बाहर जा रहा है इसलिए कुछ दिन वो अपनी मौसी के साथ उनके घर पर रहना,

काम मिलने के बाद मैं तुझे मौसी के घर से ले जाऊंगा। रमणीक ने जो कहा गंगा वैसे-वैसे करती रही, उसे क्या पता था कि वो रमणीक के मौसी का घर नहीं बल्कि एक वैश्यालय है।

gangubai kathiawadi kon thi

कुछ दिन रहने के बाद उसे पता चल गया कि रमणीक उस कभी भी लेने नहीं आएगा और अब इस हालात के बाद वो अपने गाँव भी नहीं जा सकती है।

फिर बेमन से रहने वाली गंगा ने इस वैश्यालय को ही अपना घर मान लिया। जब से गंगा उस कोठे पर आई थी तब से ही वो चर्चे में थी, उसे वहाँ सब गंगू कह कर बुलाते थे।(gangubai kathiawadi biography in hindi)

gangubai kathiawadi biography in hindi,gangubai kathiawadi real story in hindi,gangubai kathiawadi wikipedia in hindi,gangubai kathiawadi kon thi,गंगूबाई काठियावाड़ी जीवनी,गंगूबाई काठियावाड़ी कौन थी,

gangubai kathiawadi kon thi

गंगू का कोठा कमाठीपुरा में पड़ता था और वहाँ का एक खूंखार गुंडा जिसका नाम शौकत खान था, उसे भी जब पता चला कि कोठे में एक नई लड़की आई है और बहुत ही सुंदर है।

तो अगले दिन वो कोठे में पहुँच कर गंगा को घसीटते हुए उसकी मर्जी के बिना शारीरिक संबंध बनाता है। उसे नोचता है, मारता है और पीटता भी है। उसके ऊपर बिना पैसा दिए भी चला जाता है।(gangubai kathiawadi biography in hindi)

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close