सुपर क्लीन संडे-2 का सायरन बजाकर गृहमंत्री ने किया शुभारंभ, कार्यालयों की सफाई में अधिकारियों ने नहीं दिखाई रुचि

Datia News : दतिया। रविवार को पीतांबरा पीठ के सामने बने मंच से सायरन का बटन दबाकर गृहमंत्री डा.नरोत्तम मिश्रा ने दतिया में स्वच्छता सर्वेक्षण अभियान के तहत सुपर संडे-2 का शुभारंभ किया। इस मौके पर गृहमंत्री ने कहाकि आगामी 27 फरवरी को रविवार के दिन सभी लोग सुबह 10 बजे से आधा घंटा अपने-अपने घरों के सामने सफाई का कार्य करेंगे, जिससे अन्य स्थानों को भी स्वच्छता का संदेश दिया जा सके। 

उन्होंने कहाकि इस अभियान में समाज के सभी वर्गों, समाजसेवी संस्थाओं, शासकीय सेवकों सहित पार्टी कार्यकर्ताओं शिक्षण संस्थाओं के छात्र छात्रा आदि भी भाग लेंगे। स्वच्छता कार्य की सीसी टीवी एवं ड्रोन कैमरे से निगरानी भी की जाएगी। कार्यक्रम में कलेक्टर संजय कुमार ने बताया कि सुपर क्लीन संडे-2 में एक साथ 203 स्थानों पर लगभग 3000 लोग 2 घंटे सफाई का कार्य किया गया।

दूसरे रविवार को अभियान के दौरान कलेक्टर ने विभिन्न कार्यालयों में भी सफाई अभियान चलाए जाने के निर्देश भी दिए थे। साथ ही सफाई कार्य में कोताही पर अर्थदंड लगाने संबंधी हिदायत दी थी।

लेकिन महिला बाल विकास अधिकारी और उनके कार्यालय सहित कुछ अन्य विभागों ने कलेक्टर की इस हिदायत को हवा में उड़ा दिया और रविवार को बजाय सफाई करने के कार्यालय पर ताला जड़ा रहा।

जब सफाई कार्य का निरीक्षण करने अपर कलेक्टर रुपेश उपाध्याय पहुंचे तो उन्होंने इस पर नाराजगी जताई। वहीं सुपर क्लीन संडे दो के तहत पुरानी कलेक्ट्रेट में जनसंपर्क विभाग एवं कृषि विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारियों द्वारा सफाई अभियान को सराहा गया।

महिला बाल विकास आफिस पर लटका रहा ताला

सुपर क्लीन संडे के दौरान महिला बाल विकास अधिकारी तो नजर ही नहीं आए और उनके कार्यालय पर भी ताला लटका रहा। महिला बाल विकास अधिकारी की इस मनमानी को लेकर अन्य विभागीय जन चर्चाएं करते दिखाई दिए। शासकीय कार्यालयों मंे किए गए साफ-सफाई अभियान के निरीक्षण के लिए अपर कलेक्टर रूपेश उपाध्याय के नेतृत्व में गठित दल द्वारा रविवार को दोपहर 12 बजे बाद विभिन्न कार्यालयों में आकस्मिक रूप से निरीक्षण करने पहुंचा।

जहां अधिकारियों एवं कर्मचारियों से चर्चा कर जानकारी ली गई। इस दौरान अनुविभागीय अधिकारी ऋषि कुमार सिंघई एवं दल के अन्य सदस्य भी साथ रहे। अपर कलेक्टर ने निरीक्षण के दौरान पुरानी कलेक्ट्रेट में जनसम्पर्क कार्यालय खुला हुआ पाए जाने पर साफ-सफाई का जायजा लिया और कार्य की सराहना भी की।

इस दौरान महिला एवं बाल विकास, जनपद पंचायत, सामाजिक न्याय, कृषि, एनआरएलएम, सहकारिता, पशुपालन, खनिज, आदिम जाति कल्याण, उद्योग, पिछड़ा आदि कार्यालय बंद पाए जाने पर उन्होंने नाराजगी व्यक्त की।

जबकि जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में सफाई कार्य में सुधार लाने के उन्होंने निर्देश दिए। इस दौरान एनआरएलएम, महिला एवं बाल विकास, आरटीओ, कोषालय एवं तहसील कार्यालयों में साफ-सफाई पर्याप्त न होने पर असंतोष व्यक्त किया।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close