JNU में नॉनवेज पर छिड़ी लड़ाई : रामनवमी के दौरान हॉस्टल में मांसाहार परोसने पर भिड़े ABVP और लेफ्ट गुट

नई दिल्ली :  जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के कावेरी छात्रावास में रविवार को छात्रों के दो गुट आपस में भिड़ गए। पुलिस ने यह जानकारी दी। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्र संघ (जेएनयूएसयू) ने आरोप लगाया कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के सदस्यों ने छात्रों को छात्रावास में मांसाहारी भोजन खाने से रोका और ‘‘हिंसा का माहौल बनाया।’’ वहीं, एबीवीपी ने आरोप से इनकार किया और दावा किया कि रामनवमी पर छात्रावास में आयोजित पूजा कार्यक्रम में ‘‘वामपंथियों’’ ने बाधा डाली।

दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर पथराव करने और अपने-अपने सदस्यों के घायल होने का आरोप लगाया।
पुलिस उपायुक्त (दक्षिण पश्चिम) मनोज सी ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि कुछ छात्रों को चोटें आई हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘फिलहाल कोई हिंसा नहीं हुई है। विरोध प्रदर्शन किया गया जो समाप्त हो गया है। हम सभी यहां अपनी टीम के साथ तैनात हैं। विश्वविद्यालय के अनुरोध पर हम यहां आए हैं। हम शांति बनाए रखने की कोशिश कर रहे हैं।’’

उन्होंने कहा कि घटना का विवरण बाद में साझा किया जाएगा। जेएनयूएसयू ने आरोप लगाया कि एबीवीपी के सदस्यों ने ‘‘गुंडागर्दी’’ की, कर्मचारियों के साथ मारपीट की और उन्हें कोई भी मांसाहारी भोजन तैयार नहीं करने के लिए कहा।

मारपीट का वीडियो घायल

ताजा जानकारी के मुताबिक शाम को जेएनयू में दोनों पक्षों में हिंसा भी हुई है। इसमें कई छात्र दोनों ही तरफ से घायल हुए हैं। दिल्ली पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है। इस विवाद का वीडियो इनटरनेट मीडिया पर दोनों की पक्षों के द्वारा जारी किया गया है। इसमें कई छात्र घायल दिख रहे हैं। 

जेएनयू डीन ने छात्रों संग खाया खाना
हंगामे के बाद जेएनयू के डीन सुधीर प्रताप एक्शन में दिखे। उन्होंने ABVP और लेफ्ट विंग के छात्रों के साथ बैठकर कावेरी हॉस्टल में खाना खाया। उनकी कोशिश थी कि दोनों पक्षों के तरफ से मामले को शांत किया जाए। कावेरी हॉस्टल में वाइस चांसलर डीन ऑफ स्टूडेंट्स ने सभी छात्रों के साथ बातचीत भी की। इधर, जेएनयू मेस विवाद पर वीएचपी प्रवक्ता विनोद बंसल ने कहा कि किसी के साथ मारपीट की बात सामने नहीं आयी है।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close