रिजर्व बैंक की स्थापना का दिन : जानिए कैसे हुई बैंकों के बैंक भारतीय रिजर्व बैंक की स्थापना

नई दिल्ली : दुनिया के लोग भले ही एक अप्रैल को एक दूसरे को मूर्ख बनाकर मजा लेते हों, लेकिन इतिहास में इस तारीख पर कई बड़ी घटनाएं दर्ज हैं। भारत में रिजर्व बैंक की स्थापना और अमेरिका में एप्पल की स्थापना इस सदी की चंद बड़ी घटनाओं में शामिल हैं, जिसका साक्षी एक अप्रैल का दिन रहा।

भारत में एक अप्रैल 1935 को रिजर्व बैंक की स्थापना हुई और एक जनवरी 1949 को इसका राष्ट्रीयकरण किया गया। यह केन्द्रीय बैंकिंग प्रणाली है। नयी दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और चेन्नई में इसके क्षेत्रीय कार्यालय हैं।

अमेरिकी कंपनी एप्पल की बात करें तो यह परीकथा जैसी लगती है। एक अप्रैल 1976 को केलिफोर्निया में स्टीव जॉब्स, स्टीव वोजनीक और रोनाल्ड वेन ने एप्पल इंक की स्थापना की। शुरू में इसके नाम में कंप्यूटर शब्द भी जोड़ा गया था,

लेकिन 9 जनवरी 2007 को इसके नाम से कंप्यूटर शब्द हटा लिया गया और स्टीव जाब्स ने पहला आई फोन बाजार में उतारा। राजस्व के हिसाब से एप्पल दुनिया की सबसे बड़ी सूचना प्रौद्योगिकी कंपनी बनी और फोन निर्माण के क्षेत्र में भी इसने अपनी एक अलग पहचान बनाई।

क्यों पड़ी सेंट्रल बैंक की आवश्यकता

रिजर्व बैंक की स्थापना से पहले भारत में कई तरह की मुद्राएं चलन में थीं. रिजर्व बैंक का उद्देश्य था कि भारत में एक मानक मुद्रा चलाई जाए, ताकि देशभर के लोग आपस में व्यापार कर सकें.

रिजर्व बैंक के अधिकारियों ने उस काल में एक मानक मुद्रा चलन में लाने का प्रयास किया. मुर्शिदाबाद का सिक्का सैद्धांतिक रूप से कई वर्षों तक एक मानक मुद्रा के रूप में चलन में रहा.

उस दौर में चलने वाले सिक्के की उसके वजन के आधार पर उसकी मानकता तय की जाती थी. अगर सिक्के का वजन तय मानक वजन से कम होता था, तो सिक्काधारक को अलग से चार्ज देना पड़ता था और उस सिक्के को मानक सिक्के से बदल दिया जाता था.

वर्तमान दौर में भी अगर आप बैंकों में फटे-पुराने नोट बदलने जाते हैं, तो आपसे इन नोटों को बदलने के लिए कुछ शुल्क वसूल किया जाता है

देश दुनिया के इतिहास में एक अप्रैल की तारीख पर दर्ज अन्य प्रमुख घटनाओं का सिलसिलेवार ब्यौरा इस प्रकार है:-

1582 : फ्रांस में इस दिन को मूर्ख दिवस के रूप में मनाने की शुरूआत हुई।

1793 : जापान में उनसेन ज्वालामुखी फटा, जिसकी वजह से करीब 53,000 लोगों की मौत हो गई।

1839 : कोलकाता मेडिकल कॉलेज और अस्पताल बीस बिस्तर के साथ शुरू किया गया।

1869 : आयकर की शुरूआत की गई।

1869 : एक नया तलाक कानून अस्तित्व में आया।

1878 : कलकत्ता संग्रहालय को उसकी मौजूदा इमारत में जनता के लिए खोला गया।

1882 : डाक बचत बैंक प्रणाली की शुरूआत।

1889 : हिंदू का दैनिक अखबार के तौर पर प्रकाशन शुरू। 20 सितंबर 1888 से प्रकाशित इस अखबार को अब तक साप्ताहिक रूप से प्रकाशित किया जा रहा था।

1912 : भारत की राजधानी को औपचारिक रूप से कलकत्ता से दिल्ली स्थानांतरित किया गया।

1930 : विवाह के लिए लड़कियों की न्यूनतम आयु 14 वर्ष और लड़कों की 18 वर्ष निर्धारित की गई।

1935 : भारतीय रिजर्व बैंक की स्थापना।

1935 : इंडियन पोस्टल आर्डर की शुरूआत।

1936: उड़ीसा राज्य की स्थापना। इसे बिहार से अलग करके बनाया गया।

1937: पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी का जन्म।

1954 : सुब्रत मुखर्जी भारतीय वायुसेना के पहले प्रमुख बनाए गए।

1954 : कलकत्ता के साउथ प्वाइंट स्कूल की स्थापना, जो 1988 में दुनिया का सबसे बड़ा स्कूल बना।

1956 : कंपनीज एक्ट को लागू किया गया।

1957 : दाशमिक मुद्रा :डेसिमल कोएनेज: की शुरूआत के तौर पर एक पैसा चलाया गया। इसी आधार पर डाक टिकटों की बिक्री भी शुरू।

1962 : मिट्रिक भार प्रणाली को पूरी तरह अपनाया गया।

1969 : तारापुर में देश के पहले परमाणु बिजली घर ने काम करना शुरू किया।

1973 : भारत के जिम कार्बेट नेशनल पार्क में बाघ संरक्षण परियोजना की शुरूआत।

1976 : टेलीविजन के लिए एक पृथक निगम की स्थापना की गई, जिसे दूरदर्शन नाम दिया गया।

1976 : स्टीव जॉब्स ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर एप्पल कंपनी की स्थापना की।

1978 : भारत की छठी पंचवर्षीय योजना की शुरूआत।

1979: ईरान इस्लामी गणराज्य बना।

1992 : आठवीं पंचवर्षीय योजना की शुरूआत 2004: गूगल ने जीमेल का ऐलान किया। 2010 : प्रथम नागरिक राष्ट्रपति प्रतिभा सिंह पाटिल का ब्योरा दर्ज करने के साथ ही देश में 15वीं जनगणना का काम शुरू हो गया।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close