उज्जैन : स्कूटी से जा रही युवती के गले में उलझा पतंग का मांझा, गर्दन कटने से मौके पर ही चली गई जान

उज्जैन (मप्र) :  मध्य प्रदेश के उज्जैन शहर में शनिवार को कथित तौर पर पतंग के चाइनीज मांझे से गला कट जाने से एक महिला की मौत हो गई। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रवींद्र वर्मा ने बताया कि घटना माधवनगर थाना क्षेत्र के जीरो प्वाइंट पुल पर उस समय हुई जब 20 वर्षीय महिला अपनी एक मित्र के साथ स्कूटी पर जा रही थी।

उन्होंने बताया कि स्कूटी से जाते समय एक पतंग के चाइनीज मांझे (चीन से आयातित कांच पाउडर मिश्रित डोरी) से उसका गला कट गया और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। उन्होंने बताया कि पुलिस मामला दर्ज कर पतंग उड़ाने वाले व्यक्ति की तलाश कर रही है। पुलिस इलाके के सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है।

वर्मा ने कहा कि पुलिस द्वारा चाइनीज मांझे के आपूर्तिकर्ताओं और विक्रेताओं के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।इसके बाद छात्रा के परिजनों को हादसे की सूचना दी गई। माधवनगर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। चाइनीज मांझा की बिक्री प्रतिबंधित है। यह ब्लेड की तरह धारदार होता है और पहले भी इसके चलते कई हादसे हो चुके हैं। इसके बावजूद हर जगह इसकी खुलेआम बिक्री होती है।

इसलिए खतरनाक है चाइनीज मांझा

चाइनीज मांझे को प्लास्टिक का मांझा भी कहते हैं। चाइनीज मांझा अन्य मांझों की तरह धागे से नहीं बनता। यह नायलॉन और एक मैटेलिक पाउडर को मिलाकर बनाया जाता है। यह प्लास्टिक जैसा लगता है और स्ट्रेचेबल होता है। ऐसे में जब इसे खींचते हैं तो यह टूटने के बजाय बढ़ जाता है। यह मांझा ब्लेड की तरह पैना होता है और इसकी बिक्री पर प्रतिबंध है, लेकिन प्रतिबंध होने के बाद भी इसकी खुलेआम खरीद और बिक्री होती है।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close