रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने देखा आपदा प्रबंधन अभ्यास, कहा- इससे निपटने के लिए साझा सहयोग की जरूरत

आगरा  : एयरफोर्स स्टेशन, आगरा में दिनांक 28 नवंबर, 2022 से दिनांक 30 नवंबर, 2022 तक वार्षिक संयुक्त एचएडीआर अभ्यास ‘समन्वय 2022’ का आयोजन किया गया। देश के विभिन्न हितधारकों और आसियान सदस्य देशों के प्रतिनिधियों ने इस अभ्यास में भाग लिया।

क्षमता प्रदर्शन हेतु समर्पित मल्टी एजेंसी एक्सरसाइज के दूसरे दिन माननीय रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह मुख्य अतिथि थे। अपने संबोधन में माननीय रक्षा मंत्री ने अंतर्संचालनीयता में सुधार करने और संकट की स्थितियों में तेजी से प्रतिक्रिया प्रदान करने के लिए राष्ट्रीय एवं क्षेत्रीय स्तरों पर सहयोगी एचएडीआर प्रबंधन की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने मूल्यवान जीवन और संपत्ति को बचाने के लिए आपदा प्रतिक्रिया तंत्र में गति,

पैमाने और एकजुटता की आवश्यकता की वकालत की। आसियान देशों के प्रतिभागियों को धन्यवाद देते हुए उन्होंने बताया कि भारत का ध्यान अब ‘राहत-केंद्रित’ से स्थानांतरित होकर ‘बहुआयामी’ दृष्टिकोण पर हो गया है, जिसमें रोकथाम, शमन, तैयारी, प्रतिक्रिया, राहत एवं पुनर्वास शामिल हैं। उन्होंने एचएडीआर के क्षेत्र में सभी हितधारकों द्वारा निभाई गई भूमिका की सराहना की और संकट की स्थितियों में ‘प्रथम प्रतिसादकर्ता’ के रूप में सशस्त्र बलों की प्रभावशीलता के महत्व पर बात की।

‘समन्वय 2022’ ने उपलब्ध सभी एचएडीआर संसाधनों की प्रभावकारिता का परीक्षण किया। यह विभिन्न हितधारकों के बीच तालमेल की प्राप्ति की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम के रूप में उभरा और इस अभ्यास ने आसियान सदस्य देशों का प्रतिनिधित्व करने वालों समेत प्रतिभागियों के साथ ज्ञान, अनुभव एवं सर्वोत्तम प्रथाओं के आदान-प्रदान की सुविधा प्रदान की।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close