गणतंत्र दिवस: इस साल परेड में नहीं होगा कोई विदेशी चीफ गेस्ट, कोरोना के चलते किसी राष्ट्राध्यक्ष को न्योता नहीं

नई दिल्ली : इस साल कोई विदेशी राष्ट्राध्यक्ष या शासन प्रमुख गणतंत्र दिवस समारोह में मुख्य अतिथि नहीं होंगे। सूत्रों ने बुधवार को यह जानकारी दी। कोविड-19 महामारी के जारी रहने और बढ़ते मामलों के बीच लगातार दूसरे वर्ष कोई विदेशी नेता गणतंत्र दिवस समारोह में मुख्य अतिथि नहीं होंगे।

एक सूत्र ने कहा, ‘इस साल कोई विदेशी राष्ट्राध्यक्ष या शासन प्रमुख हमारे गणतंत्र दिवस समारोह में मुख्य अतिथि नहीं होंगे।’ गणतंत्र दिवस समारोह में कोई विदेशी नेता मुख्य अतिथि नहीं होंगे, लेकिन एक दिन बाद 27 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी डिजिटल माध्यम से पहले भारत-मध्य एशिया शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेंगे।

शिखर सम्मेलन में कजाकिस्तान, किर्गिज गणराज्य, ताजिकिस्तान, तुर्कमेनिस्तान और उजबेकिस्तान के राष्ट्रपति शामिल होंगे।बता दें कि सरकार ने इस बार 5 देशों उज्बेकिस्तान, तुर्कमेनिस्तान, कजाकिस्तान, किर्गिज गणराज्य और ताजिकिस्तान के नेताओं को इस बार गणतंत्र दिवस की परेड में मुख्य अतिथि के तौर पर आमंत्रित करने की योजना बनाई थी।

परेड में शामिल होने वाले 24,000 लोगों में से 19000 लोग ऐसे होंगे जिन्हें आमंत्रित किया जाएगा, जबकि बाकि के लोग आमजन होंगे, जिन्हें टिकट खरीकर परेड देखने की अनुमति होगी।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close