मानवता की सेवा में नर्सो की अहम् भूमिका होती है- सिकरवार, रास-जेबी ग्रुप ने किया लैंप लाइटिंग समारोह का आयोजन

Datia News : दतिया। मानवता की सेवा में नर्सो की अहम् भूमिका होती है, इसलिए नर्सो को सिस्टर भी कहा जाता है। वह अपने परिवार के सदस्यों की तरह मरीज की सेवा करती है। यह विचार बुन्देलखंड नर्सिंग होम के संचालक राजकुमार सिकरवार ने सोमवार को रास-जेबी ग्रुप द्वारा आयोजित लैंप लाइटिंग और शपथ ग्रहण समारोह के दौरान व्यक्त किए।

 

वहीं समारोह में डॉ.मुकेश शर्मा ने कहाकि नर्सिंग एक ऐसा क्षेत्र है जो सीधे इंसानियत की सेवा से जुड़ा हुआ है। पीड़ित मानव की सेवा ईश्वर की सेवा होती है। अतः आने वाले भविष्य में छात्र-छात्राओं को अलग-अलग स्थानों पर रहकर मानवता की सेवा करनी है।

समारोह का आयोजन झांसी रोड़ दतिया पर रास-जेबी ग्रुप द्वारा संचालित नर्सिंग कॉलेज, बीएससी नर्सिंग एवं जीएनएम के विद्यार्थियों के लिए लैंप लाइटिंग और शपथ ग्रहण के लिए किया गया।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में डॉ.मुकेश शर्मा, विशिष्ट अतिथि के रूप में बुन्देलखंड नर्सिंग होम के संचालक राजकुमार सिकरवार उपस्थित रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता संतोष गुप्ता द्वारा की गई।

कार्यक्रम के प्रारंभ में मां सरस्वती की मूर्ति एवं फ्लोरेंस नाईटएंगल के चित्र पर माल्यार्पण तथा दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम की विधिवत शुरूआत की गई।

तत्पश्चात् कॉलेज की छात्राओं द्वारा सरस्वती वंदना की प्रस्तुति दी गई। इस अवसर पर कॉलेज की प्राचार्या जागेश्वरी राजे ने विद्यार्थियों को शपथ दिलाई।

संतोष गुप्ता ने अपने उद्बोधन में कहाकि किसी मरीज के इलाज में डॉक्टरों के सथ-साथ नर्सेज की भी अहम् भूमिका होती है। उन्होंने विद्यार्थियों को बताया कि 12 मई इंटरनेशन नर्सिग डे भी बनाया जाता है। उपस्थित अतिथियों द्वारा सभी छात्र-छात्राओं को शपथ ग्रहण कराई गई।

इस अवसर पर रास-जेबी ग्रुप द्वारा संचालित नर्सिंग कॉलेज के डॉयेक्टर बृजेंद्र सिंह कौरव, राजेश मोर, नवीन शर्मा, शिक्षिका मधु यादव, राशि शर्मा, राहुल भटनागर, अभय सक्सेना, राकेश राजपूत, शहजाद खान आदि उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन अर्जित चतुर्वेदी ने किया।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close