भारत-ऑस्ट्रेलिया व्यापार समझौता: पीयूष गोयल बोले- अगले पांच वर्षों में 10 लाख नौकरियां पैदा होंगी

सिडनी :  वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने बृहस्पतिवार को कहा कि भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच व्यापार समझौते से दोनों देशों की अर्थव्यवस्थाओं में वृद्धि होगी, जिससे छात्रों के लिए बड़े अवसर उपलब्ध होंगे।

उन्होंने कहा कि ऑस्ट्रेलिया के साथ मौजूदा और भविष्य के संबंधों में शिक्षा एक महत्वपूर्ण घटक है।
उन्होंने यहां न्यू साउथ वेल्स विश्वविद्यालय में छात्रों के साथ बातचीत में कहा, ‘‘इसलिए व्यापार और अर्थव्यवस्था का विस्तार होने के साथ ही छात्रों के लिए अवसरों का भी स्वाभाविक रूप से विस्तार होता है और यही हमारा लक्ष्य है।’’

उन्होंने शिक्षा में भारत-ऑस्ट्रेलिया की साझेदारी को और अधिक ऊंचाइयों तक ले जाने का आह्वान किया और विश्वविद्यालय को भारत में अपने पदचिह्नों का विस्तार करने के लिए आमंत्रित किया। ऑस्ट्रेलिया में भारत के एक लाख से अधिक छात्र हैं।

इस कार्यक्रम में ऑस्ट्रेलियाई व्यापार मंत्री डैन तेहान ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया में पढ़ने वाले भारतीय छात्रों को भी यहां काम करने का अवसर देने की मांग पर वह विचार कर रहे हैं।गोयल ने कहा कि हम अगले 4 से 5 वर्षों में भारत में 10 लाख रोजगार सृजन की उम्मीद करते हैं। हमने द्विपक्षीय संबंधों के दायरे का विस्तार किया है। भारत ने ऑस्ट्रेलिया को कई क्षेत्रों में सेवाओं तक पहुंच की पेशकश की है।

उन्होंने कहा कि आने वाले वर्षों में भारतीय रसोइयों और योग प्रशिक्षकों के लिए कई नए अवसर खुलेंगे। ऑस्ट्रेलिया जाने वाले हमारे युवा लड़कों और लड़कियों के लिए शिक्षा के बाद के कार्य वीजा भी इस समझौते का हिस्सा हैं। गोयल ने बताया कि एक लाख से अधिक भारतीय छात्र ऑस्ट्रेलिया में रहते हैं और उन्होंने पर्यटन को बढ़ावा देने के संबंध में जानकारी भी साझा की।

Written & Source By : P.T.I

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close