2021-22 में रिकॉर्ड पर पहुंच सकता है कोल इंडिया का प्रोडक्शन, 62 करोड़ टन उत्पादन होने की उम्मीद

कोलकाता  :  सार्वजनिक क्षेत्र की कोल इंडिया लि . (सीआईएल) का 2021-22 में उत्पादन 62 करोड़ टन से ऊपर रहने की उम्मीद है। इससे पहले , पिछले दो साल में कंपनी के उत्पादन में गिरावट आयी थी। कंपनी के एक अधिकारी ने यह बात कही। कंपनी का उत्पादन चालू वित्त वर्ष में 28 मार्च तक 61.44 करोड़ टन रहा है।

अधिकारी ने कहा, ‘‘हम पिछले रिकॉर्ड उत्पादन को पार कर गये हैं और चालू वित्त वर्ष में इसके करीब 62.2 करोड़ टन रहने की उम्मीद है।’’ कोयले की आपूर्ति 2021-22 में 66 करोड़ टन के आंकड़े को पार कर जाने की उम्मीद है।

केंद्र ने चालू वित्त वर्ष में 67 करोड़ टन कोयला उत्पादन का लक्ष्य रखा था। खनन कंपनी ने पूर्व में कहा था कि उसका 2021-22 में 64 करोड़ टन के उत्पादन का लक्ष्य है। इससे पहले, 2019-20 में कंपनी का उत्पादन 60.2 करोड़ टन और 2020-212 में 59.6 करोड़ टन रहा था।

66 करोड़ टन से ज्यादा सप्लाई की उम्मीद 

कोयले की सप्लाई 2021-22 में 66 करोड़ टन के आंकड़े को पार कर जाने की उम्मीद है. केंद्र ने चालू कारोबारी साल में 67 करोड़ टन कोयला उत्पादन का लक्ष्य रखा था. खनन कंपनी ने पहले में कहा था कि उसका 2021-22 में 64 करोड़ टन के उत्पादन का लक्ष्य है. इससे पहले, 2019-20 में कंपनी का उत्पादन 60.2 करोड़ टन और 2020-212 में 59.6 करोड़ टन रहा था.

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close