जिस बेटी को संकट से बचाया उसके विवाह में भी निभाई जिम्मेदारी, गृहमंत्री ने कोटरा गांव पहुंचाया गृहस्थी का सामना और मदद

Datia News : दतिया। पिछले वर्ष अगस्त माह में आई भीषण बाढ़ के दौरान ग्राम कोटरा में फंसे रह गए ग्रामीण हरविलास जाटव और उसकी बेटी पूजा व परिवार के अन्य सदस्यों को गृहमंत्री डा.नरोत्तम मिश्रा ने हैलीकाप्टर से एयरलिफ्ट कराकर बचाया था। इस दौरान गृहमंत्री ने हरविलास से उनकी बेटी पूजा के विवाह की जिम्मेदारी उठाने का वादा भी किया था। उसी दायित्व को निभाते हुए गृहमंत्री डा.नरोत्तम मिश्रा ने बुधवार को पूजा की शादी के गृहस्थी का पूरा सामान और आर्थिक मदद पहुंचाई गई।

गृहमंत्री की ओर से डा. विवेक मिश्रा शादी के लिए पूरा सामान और आर्थिक राशि लेकर पूजा के गांव कोटरा पहुंचे। इस दौरान उन्होंने गृहमंत्री डा.मिश्रा द्वारा आशीर्वाद स्वरूप भेजा गया सामान और राशि उसे भेंट की। डा.विवेक मिश्रा विवाह में भी शामिल हुए। इस मौके पर पूजा को डबलबेड, कूलर, फ्रिज, वॉशिंग मशीन, मिक्सी और नगदी देकर उन्होंने एक भाई की तरह फर्ज अदा किया।

इस अवसर पर जिला मंत्री अतुल भूरे चौधरी और जनपद सीईओ गिर्राज दुबे, नाहर सिंह रावत, तहसीदार रावत, मिस्त्री रावत, अरुण मिश्रा, महेश पटवा, मंगल यादव, रोहित शर्मा, आनंद यादव सहित भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित रहे। गृहमंत्री डा.नरोत्तम मिश्रा के इस कार्य की ग्रामीणों द्वारा खूब प्रशंसा की जा रही है।

बाढ़ के दौरान परिवार को बचाने पहुंचे थे गृहमंत्री

गत 3-4 अगस्त को सिंध में आई जलप्रलय के दौरान गृहमंत्री डा.नरोत्‍तम मिश्रा ने साहस और सेवा का अनूठा उदाहरण पेश करते हुए दतिया जिले में बाढ़ से घिरे इलाके में पहुंचकर वहां फंसे 7 लोगों को सकुशल बाहर निकाला और बाद में खुद हेलिकॉप्‍टर के जरिए एयरलिफ्ट हुए थे।

ग्राम कोटरा और उसके समीप गोरा चौकी पर कुछ लोगों के बाढ़ में फंसे होने की सूचना मिली थी। जिसके बाद यह रेस्क्यू कराया गया। इसी दौरान हरविलास जाटव और उसकी बेटी पूजा को भी गृहमंत्री ने बाढ़ से सुरक्षित निकलवाकर हैलीकाप्टर से एयरलिफ्ट कराया था।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close