विजिलेंस ने राजस्व पटवारी को किया गिरफ्तार, ASI पर रिश्वत लेने का मामला दर्ज

चंडीगढ़ :  पंजाब विजीलैंस ब्यूरो ने राज्य में भ्रष्टाचार के विरुद्ध चलाई गई मुहिम के दौरान वेरका में पी.एस.पी.सी.एल. के बिजली चोरी विरोधी (एंटी पावर थैफ्ट) थाने में तैनात सहायक सब इंस्पेक्टर (ए.एस.आई.) नरिन्दर सिंह (831/ अंमृतसर ग्रामीण) को 4 000 रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों काबू किया है।   इस सम्बन्धी जानकारी देते हुए विजीलैंस ब्यूरो के प्रवक्ता ने बताया कि उक्त मुलजिम एएसआई को तरलोचन सिंह निवासी नयी आबादी, वेरका की शिकायत पर गिरफ़्तार किया गया है।  

अधिक जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि शिकायतकर्ता ने विजीलैंस ब्यूरो से संपर्क कर दोष लगाया कि उपरोक्त पुलिस कर्मचारी उसके खि़लाफ़ दर्ज हुए बिजली चोरी केस में जांच अधिकारी है और इस मामले सम्बन्धी अदालत में जांच रिपोर्ट पेश करने के बदले उससे 4,000 रुपए की रिश्वत की माँग कर रहा है।  

प्रवक्ता ने आगे बताया कि इस शिकायत के तथ्यों की पुष्टि करने के बाद विजीलैंस ब्यूरो के अमृतसर यूनिट की एक टीम ने जाल बिछाया और उक्त पुलिस कर्मचारी को दो सरकारी गवाहों की मौजूदगी में 4,000 रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों काबू कर लिया।   उन्होंने बताया कि उक्त ए.एस.आई के खि़लाफ़ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अंतर्गत विजीलैंस ब्यूरो के थाना अमृतसर में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और अगली कार्यवाही जारी है।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close