अभिमन्यु ने कायरव और मनीष को करवाया अरेस्ट, महिमा और पार्थ ने छुपाए सबूत

टीवी के लॉन्गेस्ट रनिंग शो ‘ये रिश्ता क्या कहलाता है’ में मेकर्स अब दर्शकों को बड़ा ट्विस्ट दिखने वाले हैं। जिसकी शुरुआत भी हो गई है। अब तक एक दूसरे से दूर रहे अक्षरा और अभिमन्यु बड़े ही ड्रामैटिक अंदाज में एक दूसरे के सामने आ गए है। शो में दोनों के सामने आने से दर्शक जहाँ बेहद खुश हैं वहीँ अब नए ट्विस्ट देखकर सभी की धड़कने भी तेज हो रही हैं।

एपिसोड की शुरुआत में अभिमन्यु मीडिया के सामने ऐलान करता है कि कायरव ने उसकी बहन की हत्या कर दी और भाग गया और उसने नकली पासपोर्ट लिया और वह मॉरीशस में छिपा था।

अभिमन्यु कहता है कि कायरव अभी भी भागने के मौके की तलाश में है इसलिए उसे तुरंत गिरफ्तार कर लिया जाएगा। अक्षरा अभिमन्यु को रोकने की कोशिश करती है। यह सब देख कायरव को पैनिक अटैक आता है।

कायरव-मनीष हुए अरेस्ट
कायरव भागने की कोशिश करता है, इंस्पेक्टर कायरव को पकड़ लेता है। इंस्पेक्टर मनीष को उसके आरोपों के बारे में जानने के बावजूद भी कायरव को छिपाने के लिए गिरफ्तार करने का फैसला करता है। कायरव और मनीष को गिरफ्तार होते देख अक्षरा टूट जाती है और सोचती है कि अभिमन्यु ने गलत किया। अभिमन्यु महिमा से कहता है कि उसने अनीशा को बर्थडे गिफ्ट दिया है।

अभि से भिड़ी अक्षु
वंश कॉल करता है और अपने वकील से देर होने से पहले कुछ करने को कहता है। वह कहता है कि अगर कायरव जेल जाएगा तो उसे बाहर निकालना उनके लिए एक समस्या होगी। अभिमन्यु ने मंजरी को देखने जाने का फैसला किया।

महिमा, पार्थ और आनंद अभिमन्यु के साथ जाने का फैसला करते हैं। तभी अक्षरा अभिमन्यु से भिड़ जाती है। वह उससे पूछती है कि सबूत देने के बावजूद उसने कायरव को गिरफ्तार करवाया।

अक्षरा ने पूछे सवाल
महिमा अक्षरा से अभिमन्यु को भड़काना बंद करने के लिए कहती है। अक्षरा कहती है कि वह अभिमन्यु के साथ बात करने के लिए यहां आई है और आगे कहती है कि अगर कायरव दोषी होता तो वह उसे गोयनका विला में क्यों छिपाती। अक्षरा कहती है कि ये जानने के बावजूद कि अभिमन्यु उससे मिलने आएगा, वह कायरव को उससे मिलने के लिए क्यों बुलाती।

महिमा ने छुपाए सबूत
अक्षरा अभिमन्यु को वार्न करती है कि उसने कायरव को सलाखों के पीछे भेजकर गलत फैसला लिया है और उसे इस बात का पछतावा होगा। अभिमन्यु सबूत पाने के लिए अपने कमरे में वापस जाने का फैसला करता है।

सबूत न मिलने पर वह नाराज हो जाता है। पार्थ महिमा से पूछता है कि क्या वे सबूतों को छुपाकर सही कर रहे हैं। महिमा और पार्थ सबूत छुपाते हैं। महिमा ने पार्थ से अपना मुंह बंद करने को कहा।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by _abhiraunivers_ (@_abhirauniivers_)

इधर स्वर्णा और सुहासिनी अक्षरा से उन सबूतों के बारे में पूछते हैं जिनके बारे में वह बात कर रही थी। अक्षरा कहती है कि उसने इसे खो दिया। आरोही अभिमन्यु पर मनीष और कायरव से बदला लेने का आरोप लगाती है। अक्षरा परेशान हो जाती है।

इधर अभिमन्यु सोचता है कि मनीष को जेल में नहीं होना चाहिए। अक्षरा सोचती है कि अभिमन्यु इस तरह मनीष और कायरव को सजा नहीं दे सकता।

प्रीकैप: अक्षरा मंजरी के लिए गाना गाती है। अभिमन्यु अक्षरा को जाने के लिए कहता है क्योंकि उसे उसकी आवाज और चेहरे में कोई दिलचस्पी नहीं है।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close
x