दिल्ली के सन्नोथ गांव में बोरी में मिला किशोरी का शव, हत्यारे ने ऐसे दिया वारदात को अंजाम

नई दिल्ली : राष्ट्रीय राजधानी में बाहरी दिल्ली के नरेला इलाके में स्थित एक दुकान से 14 वर्षीय एक किशोरी का आंशिक रूप से सड़ा-गला शव बरामद किया गया है,जो एक बोरी में रखा हुआ था। किशोरी को नौ दिन पहले अगवा कर लिया गया था और उसका गला घोंटे जाने से पहले उससे कथित रूप से सामूहिक दुष्कर्म किया गया था। पुलिस ने सोमवार को यह जानकारी दी। पुलिस ने बताया कि इस मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है, जबकि एक अन्य फरार है।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि दुकान में काम करने वाले एक मजदूर को इलाके के सन्नोथ गांव से गिरफ्तार किया गया। वह दिल्ली से मुंबई भागने की फिराक में था। उन्होंने कहा कि अपराध में शामिल दूसरे व्यक्ति को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

किशोरी को 12 फरवरी को अगवा कर लिया गया था और उसके माता-पिता ने तीन दिन बाद अज्ञात लोगों के खिलाफ अपहरण का एक मामला दर्ज कराया था। किशोरी के लापता होने के एक हफ्ते बाद शनिवार को पुलिस को सन्नोथ गांव की एक दुकान से दुर्गंध आने की सूचना मिली। अधिकारी ने कहा कि दुकानदार ने पुलिस को बताया कि उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले के जिस मजदूर को उसने काम पर रखा था, वह अनुपस्थित है।

उन्होंने बताया कि पुलिस ने जब दुकान की तलाशी ली, जहां से किशोरी का आंशिक रूप से सड़ा-गला शव बरामद किया गया। पुलिस उपायुक्त बृजेंद्र कुमार यादव ने कहा कि शव को एक बोरी में रखा गया था, जो दुकान के एक कोने में गाय के गोबर के ढेर के नीचे थी।

अधिकारी ने बताया कि मामले के एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि अन्य को पकड़ने के लिए उसके संभावित ठिकानों और उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में छापेमारी जारी है। उन्होंने बताया कि किशोरी का शव पोस्टमार्टम के लिए जहांगीरपुरी स्थित बीजेआरएम अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया है।

Written & Source By : P.T.I

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close