अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2022 : पीएम ने की लोगों से इस दिन को सफल बनाने की अपील

बेंगलुरु  : आयुष मंत्रालय और कर्नाटक सरकार मैसूरु के मैसूरु पैलेस, में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस (आईडीवाई) 2022 के मुख्य कार्यक्रम का उत्सव मनाने के लिए तैयार हैं। इस वर्ष के अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के 8वें संस्करण का विषय ‘मानवता के लिए योग’ है। आशा है कि 21 जून 2022 को कर्नाटक के मैसूरु में 15,000 से अधिक प्रतिभागी प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी के साथ योग करेंगे और करोड़ों लोग भारत तथा दुनिया में आयोजित किए जा रहे विभिन्न अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2022 कार्यक्रमों में भाग लेंगे।

कर्नाटक के राज्यपाल थावरचंद गहलोत, कर्नाटक के मुख्यमंत्री  बसवराज एस बोम्मई, केंद्रीय आयुष, पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्री सर्बानंद सोनोवाल और आयुष मंत्रालय तथा कर्नाटक सरकार के अधिकारी एवं अन्य गणमान्य व्यक्ति भी मुख्य मैसूर योग कार्यक्रम में प्रस्तुति देंगे।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2022 की तैयारी और मुख्य कार्यक्रम के बारे में, केंद्रीय आयुष, पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने कहा, “महामारी के दो वर्षों के बाद, अब हम अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को ऑफ़लाइन मोड में मना रहे हैं। 

100 दिनों, 100 संगठनों, 100 शहरों के अभियान के माध्यम से जो उत्साह और उमंग पैदा हुआ है, वह न केवल भारत में बल्कि दुनिया भर में रिकॉर्ड भागीदारी की दिशा में आगे ले जाएगा। हम सभी को यह महसूस करना चाहिए कि यह माननीय प्रधानमंत्री,  नरेन्द्र मोदी जी के अनुकरणीय और निरंतर प्रयासों के कारण ही अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस और योग के विज्ञान को दुनिया भर में मान्यता मिली है।”

इस वर्ष अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2022 में भारत में 75 प्रतिष्ठित स्थानों पर केंद्रीय कैबिनेट मंत्रियों द्वारा ‘गार्जियन रिंग’, योग प्रदर्शन और मैसूरु दशहरा मैदान, मैसूरु में एक विशेष डिजिटल योग तथा स्थैतिक प्रदर्शनी में कई पहल को पहली बार देखा जाएगा।

गार्जियन रिंग कार्यक्रम में, योग प्रदर्शन का सीधा प्रसारण तब किया जाएगा जब लोग सूर्य के उदय के साथ-साथ 16 अलग-अलग समय क्षेत्रों में योग करेंगे। यह पूर्व में फिजी से शुरू होकर पश्चिम की ओर बढ़ेगा और सैन फ्रांसिस्को में समाप्त होगा। इसका सीधा प्रसारण डीडी इंडिया पर सवेरे 3 बजे से रात 10 बजे तक (भारतीय समयानुसार) किया जाएगा।

आजादी का अमृत महोत्सव के एक हिस्से के रूप में, योग प्रदर्शन और समारोह पूरे भारत में 75 प्रतिष्ठित स्थलों पर आयोजित होंगे। भारत सरकार के केंद्रीय और राज्य मंत्री 75 स्थानों पर आयोजित योग प्रदर्शन में भाग लेंगे।

डिजिटल योग प्रदर्शनी योग के इतिहास और ज्ञान को प्रदर्शित करने के लिए आभासी वास्तविकता (वीआर) जैसी नवीनतम तकनीकों का प्रदर्शन करेगी। स्थैतिक प्रदर्शनी में 146 स्टॉल हैं जिन्हें कर्नाटक सरकार और भारत सरकार के अंतर्गत योग संस्थानों, आयुष संस्थानों द्वारा लगाया गया है। यह आशा की जाती है कि अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2022 समारोह में दुनिया भर के 25 करोड़ लोग भाग लेंगे।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close