पायलट ने मंहगाई पर भाजपा सरकार पर साधा निशाना, कहा – सरकार का इकबाल खत्म हो चुका है

जयपुर : राजस्थान के पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने मंहगाई, बेरोजगारी और किसानों के मुद्दे पर केन्द्र की भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए बुधवार को कहा कि केंद्र सरकार का इकबाल अब खत्म हो चुका है। पायलट ने कहा, ‘‘ भाजपा का नेतृत्व इतने घंमड और अंहकार में अपना काम कर रहा है.. जिससे मैं नहीं समझता की उससे जन सेवा हो सकती है। वह तो सिर्फ ध्रुवीकरण कर के.. लचीले भाषण देकर लोगों को भ्रमित करके वोट बटोरने का काम कर रहे हैं।’

प्रदेश के टोंक में संवाददाताओं से बातचीत में उन्होंने कहा कि पूरे देशभर में जो उपचुनाव के परिणाम आये है चाहे वह हिमाचल प्रदेश हो, चाहे राजस्थान, चाहे कर्नाटक हो हर जगह लोगों ने भाजपा को नकारा है।

पायलट ने कहा, ‘ मैं समझता हूं कि यह आने वाले समय का संकेत है। मुझे पूरा विश्वास है कि कांग्रेस का संगठन मजबूती से आगे बढकर आयेगा और आने वाले पांच राज्यों के चुनाव में कांग्रेस की जीत होगी।’

राजस्थान में राजनीतिक नियुक्तियों पर उन्होंने कहा कि ‘‘मैं फिर दोहरा रहा हूं कि अब लगभग तीन साल हो गये है.. जो कांग्रेस के कार्यकर्ता है जिन्होंने कांग्रेस के लिये सबकुछ कुर्बान किया.. जिन्होंने सरकार बनाने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है उन्हें लगना चाहिए कि सरकार में उनकी भागीदारी है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘हम सब नेता लोग तो भाषण देकर आते हैं.. लेकिन वे लोग तो बूथ पर खड़े होकर कांग्रेस का झंडा उठाकर उनके लिये लड़ाई लड़ते हैं, उन लोगों को उचित मान सम्मान देने की लड़ाई और संघर्ष की बात मैंने शुरू में रखी थी.. और मैं आज भी इस पर कायम हूं चाहे राजनीतिक नियुक्तियां हो या भागीदारी की बात हो.’’

उन्होंने कहा कि ‘‘जिन्होंने समर्पित भाव से भाजपा की सरकार को हराने का काम किया है इतने सारे कार्यकर्ता को लगना चाहिए कि सरकार में उनकी भागीदारी है और सुनिश्चित करने के लिये इसी बात को प्रदेश अध्यक्ष भी कहते हैं और मैं भी कहता हूं और मुझे लगता है कि बहुत जल्द यह करना चाहिए क्योंकि राजस्थान में चुनाव सिर्फ 22-23 महीने दूर रह गये और इस बात पर चर्चा हुई और मुझे लगता है बहुत जल्द अच्छे निर्णय लिये जायेंगे।’’

width="500"

पायलट ने कहा कि ‘‘मुझे लगता है कि अब समय आ गया है इस पर आगे बढ़कर काम करना चाहिए।’’ उन्होंने कहा कि ‘‘ राज्य की राजनीतिक स्थिति पर आज उन्होंने कांग्रेस महासचिव और राजस्थान से सांसद वेणुगोपाल से मुलाकात कर चर्चा की है।’’

पेट्रोल डीजल पर वैट घटाने के मुद्दे पर पायलट ने कहा कि जो कच्चे तेल के कम दाम का लाभ जनता तक पहुंचना चाहिए था वह केन्द्र सरकार ने नहीं किया और 20 लाख करोड़ रूपये केन्द्र सरकार उपकर और वैट के नाम से वसूल चुकी है।

उन्होंने कहा कि मंहगाई से छोटा कर्मचारी, किसान, मध्यम वर्ग का व्यक्ति, हर व्यक्ति आज पीडित है, दुखी है लेकिन उसको निजात नहीं मिल पा रही है.. क्योंकि सरकार सुनने को तैयार नहीं है.. उनको तो भाषण देने और नारे देने से फुर्सत कहां है उन लोगों को.. हमेशा चुनाव प्रचार की बात करते हैं.. मेक इन इंडिया, स्टेंड अप इंडिया, स्वच्छ इंडिया, मतलब नारों की तो कमी नहीं है लेकिन धरातल पर क्या उतरा है यह देखना पड़ेगा।

Written & Source By : P.T.I

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close