PMSBY, और APY योजनाओं के 7 साल पूरे : वित्त मंत्री बोली – इससे आम लोगों तक आसानी से पहुंची इंश्योरेंस और पेंशन !

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना और अटल पेंशन योजना ने सोमवार को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के सात साल पूरे कर लिए। इन योजनाओं की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 9 मई 2015 को कोलकाता, पश्चिम बंगाल में की थी। ये योजनाएं लोगों को किफायती बीमा और सुरक्षा प्रदान करने में सफल रही हैं।

ये तीन सामाजिक सुरक्षा योजनाएं नागरिकों के कल्याण के लिए समर्पित हैं, जो मानव जीवन को अप्रत्याशित जोखिमों या हानियों और वित्तीय अनिश्चितताओं से सुरक्षित करने की आवश्यकता को पहचानती हैं। यह सुनिश्चित करने के लिए कि देश के असंगठित वर्ग के लोग आर्थिक रूप से सुरक्षित हैं, सरकार ने दो बीमा योजनाएं – प्रधान मंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना और प्रधान मंत्री सुरक्षा बीमा योजना शुरू की और वृद्धावस्था में अत्यावश्यकताओं को कवर करने के लिए अटल पेंशन योजना की शुरुआत की। .

जहां प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना और प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना लोगों को कम लागत वाले जीवन या दुर्घटना बीमा कवर तक पहुंच प्रदान करती है, वहीं अटल पेंशन योजना वृद्धावस्था में नियमित पेंशन प्राप्त करने के लिए वर्तमान में बचत करने का अवसर प्रदान करती है। पिछले माह की 27 तारीख तक प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के तहत कुल नामांकन 12.76 करोड़ से अधिक हो चुका है और 5 लाख 76 हजार से अधिक दावों के लिए 11 हजार 522 करोड़ की राशि का भुगतान किया जा चुका है।

प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के तहत कुल नामांकन 28.37 करोड़ से अधिक हो गया है और 97 हजार से अधिक दावों के लिए एक हजार 930 करोड़ रुपये की राशि का भुगतान किया गया है। 4 करोड़ से अधिक व्यक्तियों ने अटल पेंशन योजना की सदस्यता ली है।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close