मासूम भाई-बहिन का पहले गला दबाया फिर सौतेली मां ने चाकूओं से गोंदा, घटना के बाद घर बंद कर भागी, पुलिस ने पकड़ा

Datia News : दतिया। सौतेली मां ने गुस्से में अाकर दो मासूम भाई बहन की चाकूओं से गाेंदकर नृशंस हत्या कर दी। घटना के बाद वह घर के किबाड़ लगाकर भाग गई। जब पिता मजदूरी कर घर लौटा तो उसने अपने बच्चों के खून से लथपथ शव पड़े देखे तो उसके होश उड़ गए।

घटना की सूचना उसने डायल हंड्रेड को दी। जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले की जांच शुरू की। घटना बुधवार दोपहर की है।

जानकारी के अनुसार सपा पहाड़ निवासी अरविंद माहौर ने 8 माह पहले ज्योति कोरी नामक महिला से दूसरी शादी की थी। अरविंद की पहली पत्नी से दो बच्चे थे। जिनमें 7 वर्षीय बेटा अर्नव एवं बेटी जान्हवी 11 उसके साथ ही रहते थे।

घटना के संबंध में एएसपी कमल मौर्य ने बताया कि इन बच्चों की सौतेली मां ज्योति इनसे अक्सर नाराज रहती थी। बुधवार दोपहर जब घर में वह और दोनों भाई-बहन थे, तभी ज्योति ने अर्नव और जान्हवी को अलग-अलग कमरे में ले जाकर पहले गला दबाया और फिर चाकूओं से गोंद डाला। जिससे दोनों भाई-बहिन की मौत हो गई। घटना के बाद ज्योति घर के किबाड़ लगाकर इंदरगढ़ चली गई।

पुलिस ने दिखाई सख्ती तो सामने आया सच

सपा पहाड़ पर मासूम भाई बहन की नृशंस हत्या के बाद सनसनी फैल गई। इस मामले को लेकर तमाम तरह की चर्चाएं की जाने लगी। लेकिन मौके पर पहुंचे एएसपी मौर्य ने पुलिस बल के साथ जांच शुरू करवाई।

शंका होने पर मृतक बच्चों के पिता अरविंद से उसकी दूसरी पत्नी के बारे में पूंछा गया तो उसने बताया कि वह हर बुधवार इंदरगढ़ हाट करने जाती है।

आज भी वहीं गई। पुलिस ने महिला ज्योति को इंदरगढ़ से बुलवाकर उससे सख्ती से पूछतांछ की तो सारा सच सामने आ गया। ज्योति ने पुलिस के सामने स्वीकार किया कि उसने ही दोनों बच्चों को मारा है।

दो घंटे एसपी की मौजूदगी में हुई पूछतांछ

जानकारी के अनुसार मासूमों की हत्या को लेकर पुलिस ने तत्परता दिखाई। इसे लेकर पुलिस ने जो सुराग मिले उनके आधार पर जांच शुरू कराई। महिला ज्योति से भी इसी एंगल को लेकर पूछतांछ की गई।

पूछतांछ के दौरान एसपी अमन सिंह एवं एएसपी मौर्य भी मौजूद रहे। दो घंटे की पूछतांछ में मासूमों के मारे जाने का सच महिला ने पुलिस के सामने कबूला।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close