नवविवाहिता के साथ सुसर ने कर दी छेड़छाड़, कोतवाली पहुंचकर महिला ने कराई रिपोर्ट, कहा दहेज के लिए भी करते थे परेशान

Datia News : दतिया। दहेज प्रताड़ना से तंग नवविवाहिता ने अपने ससुराल पक्ष के विरुद्ध कोतवाली में मामला दर्ज कराया है। इस संबंध में पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। दहेज प्रताड़ित महिला शैफाली पुत्र मोहन गुप्ता निवासी धमतालपुरा ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि उसका विवाह वर्ष 2020 में सत्यदेव नगर गांधी रोड ग्वालियर निवासी अंशू गैंडा के साथ हुआ था।

विवाह के बाद से सुसराल पक्ष के लोग उसे दहेज के लिए परेशान करते थे। इस दौरान उसका पति अंशू, ससुर दिनेश गैंडा, सास सुधा गैंडा और देवा अंकित गुप्ता लगातार मानसिक रूप से प्रताड़ित करते थे। इसी दौरान उसके ससुर दिनेश अश्लील हरकत करने की कोशिश भी की।

जिससे परेशान होकर वह अपने पिता के घर आ गई। इस मामले में महिला ने कोतवाली में दहेज प्रताड़ना एवं छेड़खानी का मामला दर्ज कराया है। पुलिस ने रिपोर्ट पर आरोपिताें की तलाश शुरू कर दी है।

गोविंद धर्मशाला के पीछे गोलीबारी करने वाला पकड़ा

हत्या के प्रयास के मामले में फरार इनामी आरोपित को पुलिस ने गत दिवस होमगार्ड कालोनी जिगना रोड से गिरफ्तार कर लिया। आरोपित के पास से घटना में प्रयुक्त 315 बोर का कट्टा व जिंदा राउंड जप्त किया गया। आरोपित करीब 3 वर्ष से फरार था। जिसके विरुद्ध कोतवाली में धारा 307 का मामला पंजीबद्ध था।

कोतवाली टीआई रविंद्र शर्मा ने बताया कि गत 17 अगस्त 2018 को फरियादी सलीम पुत्र नसीर खान निवासी गोविंद धर्मशाला के पीछे दतिया ने थाना कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई थी की गोविंद धर्मशाला के पीछे रात के समय दो अज्ञात बाइक सवारों ने कट्टे से फायर कर जान से मारने कि नियत से उसे गोली मार दी।

जिस पर थाना कोतवाली में धारा 307 के तहत मामला पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया था। विवेचना के दौरान आरोपित लला महाते को गिरफ्तार कर घटना में प्रयुक्त 315 बोर का कट्टा जिंदा राउंड जप्त किया गया।

जबकि दूसरा आरोपित अरविंद यादव पुत्र लक्ष्मण यादव निवासी निचरोली घटना दिनांक से ही फरार था। जिसे मुखबिर की सूचना पर होमगार्ड कालोनी के पास से कोतवाली पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर न्यायालय पेश किया गया।

न्यायालय द्वारा आरोपित के विरुद्ध स्थाई वारंट जारी किया गया था। आरोपित की गिरफ्तारी पर पुलिस अधीक्षक द्वारा 5000 का इनाम भी घोषित किया गया था। इस धरपकड़ में सहायक उपनिरीक्षक महेश श्रीवास्तव, प्रधान आरक्षक विनोद तिवारी, सोनपाल, पुष्पेंद्र की भूमिका रही।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close