दतिया एवं झांसी के बीच छोटे-बड़े भाई जैसा संबंध, सर्राफा कारीगर संघ के सम्मान समरोह में बोले गृहमंत्री डॉ.मिश्रा

Datia News : दतिया। मन को जीतने की कला सभी में नहीं होती है, बल्कि यह कला कारीगर में होती है। यह कला दतिया वासियों में है। व्यापार एवं व्यवसाय के मामले में दतिया एवं झांसी के बीच छोटे-बड़े भाई जैसा संबंध रहा है।

जो आगे भी बरकरार रहे। इनमें हमेशा आपसी भाईचारा एवं सद्भाव बना रहे। यह बात गृहमंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा ने रविवार को सर्राफा कारीगर संघ द्वारा आयोजित सम्मान समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित करते हुए कही।

गहोई वाटिका दतिया में आयोजित सम्मान समारोह में कलेक्टर संजय कुमार, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी कमलेश भार्गव, सुनील ताम्रकार, अजय पटवा, रहीस खान, आब्दुल साबिर खान, रत्नेश सोनी, सुनील साहू, प्रेम बाबू मौर्य,

तोहीक खान, विपिन खटीक, झांसी से मुकेश चंद्र अग्रवाल, महेश चंद्र अग्रवाल, अतुल अग्रवाल, उदय सोनी आदि उपस्थित रहे।

समारोह में गृहमंत्री डा. मिश्रा ने कहाकि कार्यक्रम में उपस्थित झांसी व्यापारी संघ के पदाधिकारी दतिया के साथ हमेशा स्नेह बनाए रखें। उन्होंने कहा कि दतिया के विकास के लिए बेहतर कार्य किए गए है।

156 करोड़ की लागत का 8 वर्ष पूर्व मेडीकल कालेज शुरू किया गया जो निरंतर प्रगति पर है। साढ़े तीन सौ करोड़ की लागत के फिसरीज एवं बेटनरी कालेज का काम शुरू हो गया है।

उन्होंने कहा कि कोरोना काल में दतिया में मरीजों को दवाईया, बैड़, मेडीकल आक्सीजन, रेमडेसीवर इंजेक्शन की कोई कमी नहीं आने दी। बल्कि झांसी एवं अन्य जिलों से भी लोग उपचार कराने यहां आए जो स्वस्थ्य होकर अपने घर वापिस लौटे।

कोरोना काल में दतिया वासियों ने जो मानव सेवा की मिसाल पेश की है वह अनुकरणीय है। इससे पूर्व गृहमंत्री ने एक दिवसीय प्रवास के दौरान राजघाट निवास पर उपस्थित लोगों की समस्याओं को सुना और उनके निराकरण के निर्देश दिए।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close