Udaariyaan 25 March 2022 Written Update in Hindi : रुपी और फतेह की लड़ाई

उड़रियां 25 मार्च 2022 एपिसोड : सीरियल में एक के बाद एक ट्विस्ट और मजेदार मूड आ रहे हैं जिससे दर्शको को बेहद मजा आ रहा हैं आज के एपिसोड में आप देखेंगे की एपिसोड की शुरुआत फतेह द्वारा बुज़ो से यह कहते हुए होती है कि उसका विचार काम करेगा और रूपी आश्वस्त हो जाएगा। जैस्मीन देखती है कि बुज़ो फतेह के साथ है और चिंतित हो जाती है कि वह उसे ज्योतिषी की भविष्यवाणी के बारे में बताएगा।

उनका कहना है कि वह उन्हें ज्यादा टेंशन नहीं देना चाहतीं। फतेह बुज़ो को तंबू में छोड़ देता है और अपनी बाइक में चला जाता है। रुपी आता है और बुज़ो को देखता है और सोचता है कि वह क्या कर रहा है। उनका कहना है कि उन्हें फतेह को जल्द ही आउट करना है। वह वापस अंदर चला जाता है। जैस्मिन बुज़ो को कार में बिठाती है और ड्राइवर से कहती है कि उसे दिए गए स्थान पर छोड़ दें।

अनागद नाश्ता कर रहा है। तेजो जैस्मिन के साथ आता है और कहता है कि वह जैस्मीन लेकर गुरुद्वारा जा रही है। अंगद सोचता है कि उसे जैस्मीन पर भरोसा नहीं है और कहता है कि उसे जैस्मीन पर नजर रखनी होगी।

जैस्मिन अंगद पर नजर रखने की सोचती है। रुपी का कहना है कि वह तेजो और जैस्मीन के साथ आएगा। सत्ती कहती है कि बहनों को अकेले जाने दो। अंगद गुरुद्वारा में तेजो और चमेली छोड़ने की पेशकश करते हैं।

तेजो बाहर आता है और फतेह को देखता है। उसे रुपी के शब्द याद आ गए। वह फतेह की ओर नहीं देखती। वह अंगद की कार में बैठ जाती है और वे भाग जाते हैं। फतेह को आश्चर्य होता है कि रूपी ने तेजो से क्या कहा और वह उसकी ओर नहीं देखती और अंगद के साथ कहाँ जा रही है।

ज्योतिषी का सहायक रूपी को तेजो और फतेह की कुंडली देने आता है। रुपी ज्योतिषी की भविष्यवाणी पढ़कर हैरान हो जाता है कि शादी करने पर तेजो-फतेह की जान खतरे में पड़ जाएगी। रूपी सहायक से पूछता है कि उसे ये कुंडली किसने दी।

सहायक का कहना है कि उसके परिवार से किसी ने दिया होगा। रुपी ने अब इस बारे में किसी से बात नहीं करने का फैसला किया है। वह आश्चर्य करता है कि ज्योतिषी से इन कुंडली का मिलान किसने किया और इस सच्चाई को किसने छुपाया।

फतेह को आश्चर्य होता है कि पुजारी रुपी से मिलने क्यों आया और तेजो ने उसकी उपेक्षा क्यों की। वह सोचता है कि क्या रुपी ने तेजो से कुछ कहा। वह चिंतित हो जाता है। तेजो गुरुद्वारा में है।

उसे रुपी के शब्द याद आ गए। वह तेजो के लिए रूपी की नफरत को खत्म करने के लिए भगवान से मदद मांगती है। रुपया सत्ती लेकर गुरुद्वारा आता है। वह वहां विर्क परिवार को देखता है और सत्ती से कहता है कि इसलिए वह आना चाहता था।

गुरप्रीत का कहना है कि उन्हें नहीं पता कि तेजो यहां आया है, उन्हें फतेह के लिए दुआ करनी होगी। गुरप्रीत रूपी से फतेह को माफ करने का अनुरोध करता है। रूपी का कहना है कि वह तेजो की शादी फतेह से नहीं करेगा, जिसका तेजो की बहन के साथ अफेयर था। कुशबीर ने तेजो की शादी को बर्बाद करने के लिए जैस्मिन को जिम्मेदार ठहराया। रुपी और कुशबीर एक दूसरे के बच्चों को दोष देने की बहस करते हैं।

गुरप्रीत का कहना है कि फतेह तेजो से बहुत प्यार करता है और वह उसके लिए यह सब कर रहा है। गुरप्रीत का कहना है कि गलतियों को करने के बाद उन्हें तेजो के लिए अपने सच्चे प्यार का एहसास हुआ। वह कहती है

कि वह बदल गया है इसलिए तेजो ने उसे माफ कर दिया। वह रुपी से फतेह को एक मौका देने का अनुरोध करती है। रूपी का कहना है कि फतेह का दिल बदल सकता है और तेजो से शादी करने के बाद उसे दूसरी लड़की से प्यार हो सकता है। कुशबीर फतेह के खिलाफ एक शब्द न कहने के लिए चिल्लाती है।

रुपी और कुशबीर एक दूसरे का कॉलर पकड़े हुए झगड़ते हैं। तेजो उन्हें लड़ते हुए देखता है और उन्हें रोकता है। रुपी का कहना है कि इसके बाद तेजो उनके घर नहीं आएगा। वह तेजो को वहां से घसीटता है। कुशबीर भी फतेह को घर वापस बुलाना चाहता है, लेकिन गुरप्रीत उसे समझाता है कि तेजो असहाय है, रुपी के दबाव को समझता है और उससे अनुरोध करता है कि वह फतेह को कोशिश करने दे।

तेजो, रुपी और सत्ती घर लौटते हैं। फतेह का कहना है कि तेजो ने एक बार भी उसकी तरफ नहीं देखा और सोच रहा था कि मामला क्या है। फतेह दिलराज से पूछता है कि तेजो उसे क्यों नजरअंदाज कर रहा है। दिर्लराज कहता है कि रुपी ने तेजो को शपथ दिलाई कि उसे उसे देखना चाहिए।

फतेह दिलराज के जरिए फतेह को एक पत्र भेजता है। रूपी के हाथ में चिट्ठी आती है। वह आगबबूला हो जाता है और उसे पीटने के लिए लाठी लेकर फतेह के पास जाता है। दिलराज इसकी सूचना तेजो को देता है। बाद वाला छत पर चला जाता है। रुपया फतेह को बुलाता है। वह फतेह का कॉलर रखता है। तेजो हैरान दिखता है।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close