दो मनपाओं को 291 करोड़ रुपए आवंटित करने को दी मंजूरी : वडोदरा महानगर में ढांचागत विकास के 227 कार्यों के लिए 284 करोड़ ,गांधीनगर शहरी सड़क योजना के अंतर्गत 7 करोड़ जारी

गांधीनगर : मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने राज्य के नगरों और महानगरों में नागरिक सुख-सुविधा कार्यों की वृद्धि के लिए स्वर्णिम जयंती मुख्यमंत्री शहरी विकास योजना को और अधिक गति देने का दृष्टिकोण अपनाया है। मुख्यमंत्री ने इस संदर्भ में वडोदरा और गांधीनगर सहित राज्य की दो महानगर पालिकाओं में जन सुविधा विकास के विभिन्न कार्यों के लिए 291.22 करोड़ रुपए स्वीकृत किए हैं।

मुख्यमंत्री ने वडोदरा महानगर पालिका को स्वर्णिम जयंती मुख्यमंत्री शहरी विकास योजना के अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिए ढांचागत विकास के 227 कार्यों के लिए 284.22 करोड़ रुपए आवंटित करने की मंजूरी दी है। गुजरात म्युनिसिपल फाइनेंस बोर्ड की ओर से इस संबंध में दोनों नगर पालिकाओं का प्रस्ताव मुख्यमंत्री के समक्ष पेश किया गया था।

मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने वडोदरा महानगर पालिका को जलापूर्ति, ड्रेनेज, बरसाती गटर योजना, स्ट्रीट लाइट और बिल्डिंग प्रोजेक्ट जैसे भौतिक ढांचागत विकास के 112 कार्यों के लिए 208.33 करोड़ रुपए आवंटित करने की सैद्धांतिक मंजूरी दी है।

उन्होंने सामाजिक ढांचागत विकास के कार्यों के लिए जोन स्तर के पानी, गटर और सड़क आदि के 112 कार्यों के लिए भी 17.34 करोड़ रुपए मंजूर किए हैं।

इतना ही नहीं, उन्होंने वडोदरा महानगर में अर्बन मोबिलिटी प्रोजेक्ट के अंतर्गत 3 पुलों के निर्माण कार्य के लिए 58.55 करोड़ रुपए के आवंटन की सैद्धांतिक मंजूरी दी है।

मुख्यमंत्री ने गांधीनगर महानगर पालिका को भी मुख्यमंत्री शहरी सड़क योजना के अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिए 7 करोड़ रुपए मुख्यमंत्री स्वर्णिम जयंती शहरी विकास योजना से आवंटित करने की सैद्धांतिक मंजूरी दी है।

गांधीनगर महानगर पालिका 7 करोड़ रुपए की इस राशि का उपयोग गांधीनगर महानगर में शामिल किए गए खोरज, झुंडाल, अमियापुर, सुघड़, कोटेश्वर और भाट गांव की टीपी स्कीम में दो नए एस्फाल्ट रोड के निर्माण में करेगी।

इन दोनों महानगरों में स्वर्णिम जयंती मुख्यमंत्री शहरी विकास योजना के अंतर्गत विकास कार्यों का प्रस्ताव संबंधित महानगर पालिकाओं की ओर से गुजरात म्युनिसिपल फाइनेंस बोर्ड के मार्फत मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल के समक्ष प्रस्तुत किया गया था, जिसे उन्होंने सैद्धांतिक मंजूरी दे दी है।

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close